Home » बिज़नेस » Jio is 17th most innovative company in world; check its India rank
 

एक और खिताब : jio बनी दुनिया की 17वीं सबसे इनोवेटिव टेलिकॉम कंपनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 June 2018, 13:03 IST

मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो को एक और खिताब से नवाजा गया है. इंस्टिट्यूट ऑफ़ कम्पेटिटिवेनेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक रिलायंस जियो दुनिया की सबसे इनोवेटिव कंपनियों में से 17 वां स्थान पर है. रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड द्वारा जारी की गई वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया है कि रिलायंस जियो को 2018 में अमेरिकी बिजनेस मैगज़ीन फास्ट कंपनी की 50 सबसे इनोवेटिव कंपनियों की सूची में 17 वीं सबसे नवीन कंपनी के रूप में स्थान दिया गया है.

जियो ने सितंबर 2016 से अब तक 186.6 मिलियन से ज्यादा ग्राहक जुटा लिए. वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया है, "मार्च 2018 को समाप्त होने वाली वित्तीय तिमाही में 5 एक्साबाइट की कुल मोबाइल डेटा खपत के साथ मोबाइल डेटा ट्रेफिक के मामले में रिलायंस जियो दुनिया का सबसे बड़ा मोबाइल नेटवर्क है.

जियो ने मार्च (2018) तक कुल 18.66 करोड़ ग्राहक जोड़ लिए थे. आरआईएल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा, "जियो दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे तेजी से बढ़ता मोबाइल नेटवर्क है, जिसने दुनिया को चकित करते हुए संचालन के पहले साल में ही लाभप्रद बन गया है, जिस पर हमें गर्व है." जियो ने अपने वाणिज्यिक परिचालन के पहले साल में 723 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया, जबकि कंपनी का कारोबार 23,714 करोड़ रुपये का रहा.

जियो म्यूजिक का भी जलवा 

टेलिकॉम कंपनियों को कड़ी टक्कर देने के बाद जियो ने अब भारत के संगीत स्ट्रीमिंग बाजार की नींद उड़ा दी है. मार्च में रिलायंस के जियो म्यूजिक ने ग्लोबल म्यूजिक स्ट्रीमिंग पोर्टल सावन के साथ 1 बिलियन डॉलर का मर्जर किया था. मार्च के अंत तक इस संयुक्त कंपनी ने फ्री म्यूजिक स्ट्रीमिंग ब्राउज़र ऐप जना एमसेंट पर सबसे ज्यादा इंस्टॉल हासिल किये हैं.

जना ने अपनी नवीनतम मोबाइल मैज्योरिटी रिपोर्ट में कहा कि इस जियो और सावन के विलय वाली कंपनी ने जनवरी में संयुक्त बाजार हिस्सेदारी से 1.24 प्रतिशत की बढ़ोतरी हासिल की है. अपने शोध के लिए जना ने साल के पहले तीन महीनों के दौरान भारत में अपने एमसेंट ब्राउज़र पर उपयोगकर्ताओं से ऐप इंस्टॉल और इस्तेमाल किये गए डेटा की जानकारी एकत्र की. साथ ही जना ने भारत में 30 मिलियन से ज्यादा उपयोगकर्ताओं को एकत्रित किया.

ये भी पढ़ें : टेलिकॉम सेक्टर के बाद अब अंबानी के जियो ने उड़ाई 'म्यूजिक स्ट्रीमिंग' बाजार की नींद

First published: 8 June 2018, 13:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी