Home » बिज़नेस » Jio third major deal in a month, 2.3% shares sold to US company for 11,367 crores
 

Jio ने एक महीने में की तीसरी बड़ी डील, US फर्म को 11,367 करोड़ में बेचे 2.3 फीसदी शेयर

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 May 2020, 12:11 IST

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कहा है कि वह जियो प्लेटफार्म में 2.3 फीसदी शेयर विस्टा इक्विटी पार्टनर्स को 11,367 करोड़ में बेचेगी. इस घोषणा के बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में 4.4 फीसदी की वृद्धि हुई है. विस्टा इक्विटी पार्टनर्स ने Jio में बतौर तकनीकी पार्टनर ये निवेश किया है. निवेश फेसबुक डील के 12.5 फीसदी प्रीमियम पर हुआ है. विस्टा इक्विटी पार्टनर्स एक अमेरिकी निवेश फंड है. यह उद्यम सॉफ्टवेयर, डेटा और प्रौद्योगिकी-सक्षम कंपनियों को सशक्त और विकसित करने पर केंद्रित है.

रिलायंस के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी इस सौदे पर ख़ुशी जताई है. रिलायंस जियो में बीते एक महीने में तीन बड़े निवेश हुए हैं. फेसबुक और सिल्वर लेक के बाद विस्टा इक्विटी ने जियो में निवेश किया है. यानी बीते एक महीने में जियो में 60,596.37 करोड़ रुपये का निवेश हुआ है. Vista का कटिंग एज (अत्याधुनिक) टेक्नोलॉजी कंपनियों में निवेश का बड़ा ट्रैक रिकॉर्ड है.


हालही में इसके पहले अमेरिका की प्राइवेट इक्विटी कंपनी सिल्वरलेक पार्टनर्स ने मुकेश अंबानी के जियो 1 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी. इस सौदे की कीमत 75 करोड़ डॉलर यानी करीब 5655.75 करोड़ रुपए थी. फेसबुक ने जियो प्लेटफार्म में 9.99 फ़ीसदी हिस्सेदारी के रूप में 5.7 अरब डॉलर की डील की थी.

रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड के 388 मिलियन से अधिक ग्राहक हैं. Jio को सितंबर 2016 में लॉन्च किया गया था और केवल तीन वर्षों में वह ग्राहक आधार पर भारत की सबसे बड़ी मोबाइल सेवा कंपनी बन गई. जियो एकमात्र भारतीय दूरसंचार कंपनी है जिसने अपना पूरा नेटवर्क 4G VoLTE तकनीक पर बनाया है. अन्य सभी कंपनियों में 2 जी, 3 जी और 4 जी प्रौद्योगिकियों का मिश्रण है.

फेसबुक के बाद अमेरिकी इक्विटी फर्म सिल्वर लेक ने रिलायंस Jio में किया 5,656 करोड़ का निवेश

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने काटी कर्मचारियों की 50 फीसदी तक सैलरी : रिपोर्ट

First published: 8 May 2020, 12:04 IST
 
अगली कहानी