Home » बिज़नेस » Jio wired broadband internet :Dhirubhai's birthday, announcement of this new war against Airtel
 

धीरूभाई के जन्मदिन पर Jio करने जा रहा है Airtel के खिलाफ इस नए युद्ध का ऐलान

सुनील रावत | Updated on: 16 April 2018, 18:35 IST

टेलिकॉम सेक्टर में वायरलेस इंटरनेट सेवा के जरिये धूम मचाने के बाद मुकेश अंबानी की टेलिकॉम कंपनी रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड इस साल के अंत तक फाइबर-टू-होम (ब्रॉडबैंड) के जरिये नया युद्ध छेड़ने जा रहा है. कंपनी यह 168 मिलियन ग्राहकों के एक बड़े आधार तक पहुंचना चाहती है. 28 दिसंबर को धीरूभाई अंबानी के जन्मदिन के अवसर पर इस सेवा का उद्घाटन किया जा सकता है.

रिलायंस जियो पहले ही अपने वायर्ड ब्रॉडबैंड सेवा के लिए देश के कुछ स्थानों पर बीटा परीक्षण शुरू कर चुका है. कंपनी ने नई दिल्ली और मुंबई में कई जगहों पर मुफ्त ब्रॉडबैंड की पेशकश भी की है. इस सेवा में 4,500 रुपये की देकर अनलिमिटेड इंटरनेट 100 एमबीपीएस की स्पीड से दिया जा रहा है.

 

कंपनी का कहना है कि उनके पास भारत में करीब 18 मिलियन घर जुड़ चुके हैं. कंपनी इस आंकड़े को जल्द कम से कम 200 मिलियन तक देखना चाहती हैं. भारत के दूरसंचार नियामक (ट्राई) के आंकड़ों के मुताबिक 31 दिसंबर तक भारत में 424.67 मिलियन वायरलेस इंटरनेट की तुलना में केवल 21.28 मिलियन वायर्ड इंटरनेट ग्राहक थे.

 

वायर्ड इंटरनेट में बीएसएनएल सबसे आगे 

वायर्ड इंटरनेट सेगमेंट में भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) 9.38 लाख ग्राहकों के साथ 52.53% बाजार हिस्सेदारी रखता है. इसके बाद भारती एयरटेल लिमिटेड 10.12% बाजार हिस्सेदारी है. ट्राई के आंकड़ों के मुताबिक अक्टूबर से दिसंबर 2017 में प्रति माह प्रति उपभोक्ता औसत डेटा उपयोग 1,945 एमबी था, जो अक्टूबर-दिसंबर 2016 में 878 एमबी था. आंकड़ों के इस उछाल को देखते हुए जियो अपनी योजना बना रहा है.

एयरटेल  के पास हैं इतने ग्राहक 

जियो के सबसे प्रमुख प्रतिद्वंद्वी एयरटेल फ़िलहाल भारत में 89 शहरों में 2.1 करोड़ उपयोगकर्ताओं को 100 एमबीपीएस की स्पीड से वायर्ड ब्रॉडबैंड प्रदान दे रहा है. दिसंबर के अंत तक, इससे एयरटेल का औसत राजस्व 948 रुपये था. जियो को टक्कर देने के लिए एयरटेल ने अब एक सुपरफास्ट होम ब्रॉडबैंड प्लान शुरू किया, जिसमें 300 एमबीपीएस की गति के साथ 2,90 रुपये के मासिक कीमत पर 1200 जीबी डाटा का पेश किया है.

 

First published: 16 April 2018, 18:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी