Home » बिज़नेस » JioPhone 2 : Reliance plans to import JioPhone 2 devices at 0% customs duty, says TMA
 

'मेक इन इंडिया नहीं है अंबानी का JioPhone, चीन से इम्पोर्ट की जाती है डिवाइस'

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 July 2018, 13:04 IST

भारतीय अरबपति मुकेश अंबानी ने हाल ही में जियोफोन-2 लॉन्च करने की घोषणा की है, जिसने स्थानीय फीचर फोन निर्माताओं को बड़ा झटका दिया है. बड़ी संख्या में स्थानीय कंपनियों को डर है कि जियोफोन 2 न केवल उनके कारोबार को बर्बाद कर देगा बल्कि भारत में 'मेक इन इंडिया' को भी हरा देगा.

इकनोमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार 'द मोबाइल एसोसिएशन' (टीएमए) के मोबाइल एडवाइजरी कमेटी के अध्यक्ष भूपेश रसीन, जो कार्बन, लावा और जिवी मोबाइल जैसे हैंडसेट निर्माताओं समेत लगभग 200 फर्मों का प्रतिनिधित्व करते हैं, ने अख़बार से इंटरव्यू में ये बातें कही.

उन्होंने कहा ''विभिन्न बाजार स्रोतों से एकत्रित हमारी समझ के अनुसार, JioPhone2 किसी भी पुराने फोन के बदले में उपलब्ध होने जा रहा है. उदाहरण के लिए माइक्रोमैक्स और लावा रेंज जैसे विभिन्न ब्रांडों द्वारा प्रस्तावित 4जी फीचर फोन के लिए सामान्य खुदरा कीमत 2,100 रुपये से 3,333 तक है''.

TMA ने कहा ''यदि रिलायंस जियो को 501 रुपये प्रति यूनिट के बहुत कम कीमत फोन बेचता है तो तो इंटेक्स, इटेल, जिवी मोबाइल, कार्बन, लावा, माइक्रोमैक्स और लगभग 100 अन्य ब्रांड जैसे वास्तविक मोबाइल विक्रेताओं के कारोबार को झटका लगेगा''.

टीएमए के अनुसार ''काउंटरपॉइंट रिसर्च के अनुसार, फीचर फोन के कुल शिपमेंट में जियो का बाजार हिस्सा CY 2017 के क्यू 4 में इकाइयों के मामले में 26% पर दर्ज किया गया था, जबकि पूरे कैलेंडर वर्ष 2017 के लिए, यह 11% होने का अनुमान था''.

उन्होंने कहा कि जियोफोन डिवाइस भारत में नहीं बने हैं. हमारी समझ के अनुसार जियोफोन डिवाइस सभी चीन से आयात किए जाते हैं. दूरसंचार सेवा प्रदाता अब 0% सीमा शुल्क का लाभ उठाने के लिए इंडोनेशिया के माध्यम से बड़ी मात्रा में आयात करने की योजना बना रहा है.

इंटरव्यू में टीएमए ने कहा 'दूरसंचार सेवा प्रदाता को जियोफोन 2 4जी फीचर फोन 501 रुपये प्रति यूनिट पर बेचने की अनुमति देने से कम से कम 100 निर्माताओं पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा. जिसमे इंटेक्स, इंटेल, जिवी मोबाइल, कार्बन, लावा और माइक्रोमैक्स जैसे कुछ प्रमुख ब्रांड शामिल हैं.

ये भी पढ़ें : वो 50 लोग जिन्होंने नीरव मोदी से ज्वैलरी खरीदी, इनकम टैक्स के निशाने पर

First published: 15 July 2018, 12:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी