Home » बिज़नेस » Johnson and Johnson ordered to pay 4.7 billion us dollar in damages baby powder talc to cancer patients
 

Johnson and Johnson के बेबी पाउडर से हुआ कैंसर, कंपनी पर लगा 4.69 अरब डॉलर जुर्माना

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 July 2018, 18:30 IST

जॉनसन एंड जॉनसन की गिनती बच्चों के सबसे भरोसेमंद ब्रांड के तौर पर होती है. भारत में भी इसके उत्पादों का जमकर इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन इस कंपनी की बड़ी करतूत का पर्दाफाश हुआ है. जॉनसन एंड जॉनसन ने अमेरिका में मासूमों की जान से बड़ा खिलवाड़ किया है.

अमेरिका में इस कंपनी का पाउडर लगाने से पूरे 22 बच्चों के परिवार को नुकसान पहुंचा है. इसके इस्तेमाल से उनके परिवार को कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी का सामना करना पड़ा है. इसी के तहत अमेरिका में गुरुवार को एक जूरी ने जॉनसन एंड जॉनसन को 22 महिलाओं और उनके परिवारों को नुकसान पहुंचाने पर 4.69 अरब डॉलर भुगतान करने का आदेश दिया है.

इन परिवार वालों ने दावा किया था कि कंपनी के टैल्कम पाउडर उत्पादों से उन्हें ओवेरियन कैंसर हो गया. समाचार एजेंसी एफे ने बताया कि सेंट लुइस, मिसौरी में जूरी द्वारा दिए गए मुआवजे को क्षतिपूर्ति के तौर पर 55 करोड़ डॉलर और दंडात्मक हर्जाने के तौर पर 4.14 अरब डॉलर में बांटा गया है.

कंपनी को अब तक का सबसे बड़ा नुकसान

इसी तरह के 9,000 मामलों का सामना करने वाले जॉनसन एंड जॉनसन के लिए यह अब का सबसे बड़ा नुकसान है. अभियोगियों, जिनमें से छह की पहले ही मौत हो चुकी है, ने आरोप लगाया कि बच्चों के उत्पाद कंपनी के टैल्कम पाउडर में एस्बेस्टस पाया गया और 1970 के दशक से उनमें ओवेरियन कैंसर होने का कारण बना.

जॉनसन एंड जॉनसन ने फैसले के खिलाफ अपील करने की घोषणा की है. उसने अपनी दलील में कहा है कि टैल्कम पाउडर में एस्बेस्टस नहीं है या कैंसर कारक पदार्थ नहीं हैं. आपको बता दें कि इससे पहले भीअमेरिका के मिसौरी में एक अदालत ने एक मामले में इस कंपनी पर 72 मिलियन का जुर्माना लगाया था।. जिसमें ये बताया गया था कि पाउडर के इस्तेमाल से गर्भाशय कैंसर (ovarian cancer) का खतरा हुआ है.

First published: 13 July 2018, 18:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी