Home » बिज़नेस » know about the new rates of these items after implimentation of gst on 1 july.
 

काम की ख़बर: GST लागू होने के बाद ये चीजें हो जाएंगी महंगी-सस्ती

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 June 2017, 13:19 IST
आर्या शर्मा/ कैच न्यूज़

एक जुलाई से मोदी सरकार पूरे देश में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू करने जा रही है. इसके बाद वन नेशन, वन टैक्स की तर्ज पर एक समान टैक्स लगेगा. सरकार ने अलग-अलग वस्तुओं और सर्विस पर जीएसटी के रेट तय कर दिए हैं. इसके बाद कई चीजें पहले से महंगी और कई सस्ती हो जाएंगी.

जीएसटी के बाद ये होगा सस्ता

कपड़े सस्ते -एक हजार रुपये तक आने वाले सभी तरह के कपड़े पर सरकार ने पांच फीसदी की दर से जीएसटी लगाया है. अभी तक इस पर 7 फीसदी की दर से कर लगता है. एक हजार रुपये से अधिक मूल्य के कपड़ों पर 12 फीसदी की दर से जीएसटी लगेगा.

स्मार्ट फोन सस्ता

डिज़िटल इंडिया की तरफ बढ़ रही मोदी सरकार ने स्मार्ट फोन पर जीएसटी कम कर दिया है. अभी इन पर 13.5 फीसदी टैक्स लगता है. जीएसटी में इन पर 12 फीसदी कर लगाने का प्रस्ताव है.

विमान यात्रा होगी सस्ती

जीएसटी के लागू होने के बाद इकनॉमी क्लास में विमान यात्रा सस्ती हो जाएगी. इकनॉमी श्रेणी के किराये के लिए जीएसटी दर पांच फीसदी तय की गई है अभी यह छह फीसदी है. हालांकि, बिजनेस श्रेणी में विमान से यात्रा महंगी होगी. इसके लिए कर की दर 12 फीसदी तय की गई है, जो अभी तक 9 फीसदी थी.

मोटरसाइकिल सस्ती

युवाओं में मोटरसाइकिल का बहुत क्रेज है. जीएसटी में मोटरसाइकिलें भी कुछ सस्ती हो सकती हैं. इन पर टैक्स की दर करीब एक फीसदी कम होकर 28 फीसदी रह जाएगी.

मीट, दूध और दही सस्ते

दैनिक उपयोग में आने वाली वस्तुएं दूध, दही, ताज़ा सब्जियां, शहद, गुण, प्रसाद, कुमकुम, बिंदी और पापड़ को जीएसटी दायरे से बाहर रखा गया है. इसके कारण ये चीजें सस्ती होंगी, क्योंकि जीएसटी लागू होने के बाद इन पर कोई टैक्स नहीं लगेगा.

जीएसटी के बाद ये सब होगा महंगा

रेस्तरां में खाना महंगा

एक जुलाई से रेस्तरां में खाना महंगा हो जाएगा. अभी आपके खाने के पूरे बिल पर वैट लगाकर 11 फीसदी टैक्स लगता है. जीएसटी में इसे तीन हिस्सों में बांटा गया है. यानी नॉन-एसी रेस्तरां में फूड बिल पर 12 फीसदी टैक्स यानी 1 फीसदी ज्यादा लगेगा. इसी तरह शराब लाइसेंस और एसी वाले रेस्तरां में खाने पर 18 फीसदी टैक्स यानी 7 फीसदी ज्यादा लगेगा.

मोबाइल बिल ज्यादा देना होगा

सरकार ने टेलीकॉम सेवाएं महंगी कर दी है. अब इन्हें 18 फीसदी जीएसटी के दायरे में रखा गया है. फिलहाल मोबाइल बिल पर 15 फीसदी टैक्स लगता है.

बीमा लेना होगा महंगा

बीमा पॉलिसी लेना आगामी एक जुलाई से महंगा हो जाएगा. जीएसटी काउंसिल ने इस पर 18 फीसदी की दर से टैक्स लेने का फैसला लिया है. फिलहाल बीमा क्षेत्र पर सेवा कर उपकर के साथ 15 फीसदी लगता है.

घूमना हुआ महंगा

जीएसटी के लागू होने के बाद घूमना थोड़ा महंगा हो जाएगा. GST में टूर एंड ट्रैवल पर 18 फीसदी टैक्स लगेगा. अभी 15 फीसदी लगता है.

First published: 21 June 2017, 13:19 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी