Home » बिज़नेस » Kumar Mangalam Birla says Vodafone Idea shop may have to be closed
 

सरकार ने नहीं दी राहत तो Vodafone Idea को बंद करनी पड़ सकती है दुकान: कुमार मंगलम बिड़ला

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 December 2019, 14:41 IST

Vodafone Idea: वोडाफोन आइडिया लिमिटेड के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला का कहना है कि अगर उन्हें एजीआर के मामले में राहत नहीं मिली तो उन्हें दुकान बंद करनी पड़ सकती है. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के 24 अक्टूबर के फैसले के मद्देनजर कुमार मंगलम ने यह बात कही है. हालही में सभी टेलिकॉम कंपनियों को सुप्रीम कोर्ट ने बकाया चुकाने के लिए कहा था. एजीआर पर सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया कि इन टेलिकॉम कंपनियों को तीन महीने में दूरसंचार विभाग (DoT) को 92,000 करोड़ चुकाने पड़ेंगे. मंगलम ने कहा कि अगर हमें राहत नहीं मिलती है तो हम दुकान बंद कर देंगे.

वोडाफोन आइडिया पर DoT का 40,000 करोड़ बकाया है, जबकि इसका आधा हिस्सा नकद शेष है. सुप्रीम कोर्ट ने 14 साल लंबे केस में हालही में अहम फैसला दिया था. जिसमें DoT ने दावा किया था कि दूरसंचार कंपनियों को एजीआर के रूप में स्पेक्ट्रम फीस और लाइसेंस फीस के अलावा अन्य स्रोतों से आने वाली कमाई को भी देना होगा. DoT ने कहा कि अन्य स्रोतों के अलावा इसमें हैंडसेट की बिक्री भी शामिल है.

वोडाफोन आइडिया को सितंबर तिमाही में 50,921 करोड़ रुपये के रिकॉर्ड घाटा हुआ है. जो कॉर्पोरेट इतिहास का सबसे बड़ा घाटा था. एजीआर प्रोविजनिंग के कारण भारती एयरटेल को भी 23,045 करोड़ रुपए का घाटा हुआ. एक रिपोर्ट के अनुसार टेलीकॉम कंपनियों पर करीब 1.33 लाख करोड़ रुपये बकाया है. भारती एयरटेल (Bharti Airtel) -62,187.73 करोड़, वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea)- 54,183.9 करोड़ और बीएसएनएल तथा एमटीएनएल (BSNL & MTNL) - 10,675.18 करोड़ रुपये बकाया है.

'कश्मीर से 370 हटाने के बाद हुआ 15,000 करोड़ का नुकसान, गई इतनी नौकरियां'

First published: 6 December 2019, 13:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी