Home » बिज़नेस » LIC: at time of taking life insurance Policy, investment avoid these mistakes
 

LIC में डूब सकता है आपका पैसा, पॉलिसी लेते समय अगर आपने कर दी है ये गलतियां

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 April 2019, 17:43 IST

LIC को हमारे देश में सबसे भरोसेमंद इंश्योरेंस कंपनी माना जाता है क्योंकि यह एक सरकारी कंपनी है या दूसरे शब्दों में कहें तो इसमें निवेश किये गए पैसे पर सरकार की गारंटी होती है. लेकिन LIC की पॉलिसी लेते समय अगर अपने कुछ गलती कर दी है तो आपके पैसे डूब सकते हैं जिसपर आगे चर्चा की गई है. कोई भी व्यक्ति अपनी मेहनत की कमाई LIC या अन्य बीमा कंपनियों में इसलिए लगता है कि जरुरत के समय उसे पैसे वापस मिल जाए और निवेश किए गए रकम पर अच्छा-खासा रिटर्न भी मिले. LIC में निवेश करने का मुख्य लक्ष्य होता है अपने भविष्य को आर्थिक तौर पर सुरक्षित बनाना लेकिन पॉलिसी खरीदते समय अगर अापने बीमा एजेंट के बहकावे के आकर कोई सूचना छुपाई है उसका खामियाजा आपको या नॉमिनी को भुगतना पड़ता है.

इसके लिए सरकार अक्सर गाइडलाइन भी जारी करती है कि‍ बीमा एजेंट, ग्राहक को हर बात सच-सच बताएं इसके बाद अगर कोई सहर्ष प्लान लेना चाहे तो ठीक और न लेना चाहे तो एजेंट उसे फोर्स नहीं कर सकते. इसके बावजूद एजेंट कई तरह की चिकनी-चुपड़ी बातें और तरकीब लगा ग्राहक को पॉलि‍सी बेच देते हैं. ऐसे में जि‍नसे हर पॉलिसी खरीदार को आगे बताये बातों से सावधान रहना चाहि‍ए.

मेडिकल टेस्ट कराने की जरुरत नहीं

पॉलि‍सी कई तरह की होती हैं, कई पॉलि‍सी हैं जि‍नमें मेडि‍कल टेस्ट नहीं कराने होते, लेकि‍न इन पॉलिसीज में कवर बहुत कम होता है. लेकिन अच्छे रिटर्न वाले ज्यादातर पॉलिसी में मेडिकल टेस्ट कराया जाता है. अगर बीमा एजेंट आपसे कहता है कि आप पूरी तरह ठीक हैं बाकि हम मैनेज कर लेंगे. उस समय तो आप अपनी सुविधा के लिए हामी भर पॉलिसी ले लेते हैं लेकिन अगर भविष्य में आपको कुछ हो जाता है यानि दुर्घटना या मृत्यु तो कंपनी पूरी छानबीन करती है. अगर आपने कोई बात छुपाई है तो इसके बाद आपके नॉमिनी को बता दिया जाता है कि‍ आपको कोई बीमारी थी, जि‍सके बारे में आपने बीमा कंपनी को नहीं बताया था. ऐसे में नॉमि‍नी को क्लेम नहीं मिलेगा और आपका निवेश किया पैसा डूब जाएगा.

इससे ज्यादा रिटर्न कहीं नहीं मिलेगा

15-18 % के बीच रि‍टर्न देने की बात एकदम झूठ है, क्‍‍‍‍‍‍‍‍योंकि‍ कोई भी कंपनी वो प्राइवेट या सरकारी कभी इतना रि‍टर्न नहीं दे सकती. वहीं, जो उत्पाद बड़ी आबादी के लिए चलाए जा रहे हों उनमें इतना रिटर्न देना मुश्किल है. ऐसे में साफ है कि‍ एजेंट झूठ बोल रहा है और आप सावधान होकर पूरी जानकारी लेकर ही पॉलिसी खरीदें.

First published: 16 April 2019, 17:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी