Home » बिज़नेस » Lockdown: Bank branches will be open, pay attention to rumors
 

लॉकडाउन: खुली रहेंगी बैंक शाखाएं अफवाहों पर ध्यान न दें, ये है समय

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 March 2020, 16:14 IST

देश में कोरोनावायरस के प्रकोप के मद्देनजर लॉकडाउन के दौरान बैंक की शाखाएं खुली रहेंगी. वित्तीय सेवा सचिव देबाशीष पांडा ने आश्वासन दिया कि कस्टमर सर्विस शाखाएं आवश्यक सेवाओं के लिए प्रतिबद्ध हैं. उन्होंने ग्राहकों को आश्वस्त किया कि बैंकों में नकदी की कोई कमी नहीं है. उन्होंने लोगों से बैंक शाखाओं के बंद होने की अफवाहों पर विश्वास न करने का भी अनुरोध किया.

पांडा ने एक ट्वीट में कहा "कस्टमर सर्विस बैंक शाखाएं चालू हैं और सेवाएं प्रदान करना जारी रखेंगी. उन्होंने कहा शाखाओं और एटीएम में पर्याप्त नकदी है. शाखा बंद होने की अफवाहों पर भरोसा न करें. कोरोनोवायरस महामारी के बीच कई सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के बैंकों ने काम के घंटों की कटौती की है'. देश के सबसे बड़े ऋणदाता भारतीय स्टेट बैंक ने कोरोनोवायरस के प्रकोप के मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखने के लिए काम के घंटे कम किये हैं.


SBI के मैनेजिंग डायरेक्टर पीके गुप्ता ने कहा "कई राज्यों में हमने अपनी शाखा के खुलने का समय सीमित रखा है. कुछ राज्यों में सुबह 7 से 10 बजे तक, कुछ राज्यों में सुबह 8 से 11 बजे और कुछ में 10 बजे से 2 बजे तक है''. एक्सिस बैंक ने अपने काम  के घंटों को संशोधित किया. संशोधित बैंकिंग घंटे सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक हैं. एचडीएफसी बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक जैसे कई अन्य निजी ऋणदाताओं ने भी कोरोनोवायरस महामारी के बीच अपने बैंकिंग घंटों को संशोधित किया.

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने आज कहा कि कोरोनोवायरस महामारी से निपटने के लिए लगभग 3.74 लाख करोड़ की लिक्विडिटी वित्तीय प्रणाली में डाली जाएगी. आरबीआई गवर्नर ने जमाकर्ताओं को आश्वासन दिया "आपका पैसा सुरक्षित है." उन्होंने आगे कहा कि "भारतीय बैंकिंग प्रणाली सुरक्षित और सुदृढ़ है."

Coronavirus effect: RBI ने रेपो रेट में की 0.75 फीसदी की बड़ी कटौती

First published: 27 March 2020, 16:13 IST
 
अगली कहानी