Home » बिज़नेस » Make in India: Chinese company will make electric buses in india and export
 

मेक इन इंडिया : चीन की ये कंपनी भारत में बनाएगी इलेक्ट्रिक बस और करेगी एक्सपोर्ट

सुनील रावत | Updated on: 14 February 2018, 16:18 IST

जल्द ही चीन की इलेक्ट्रिक बस निर्माता BYD भारत में अपनी मैन्युफैक्चरिंग शुरू करने जा रही है. साथ ही कंपनी यहां से पड़ोसी देशों के लिए अपना एक्सपोर्ट भी शुरू करेगी. हैदराबाद स्थित गोल्ड स्टोन ग्रुप देश में बीवाईडी की बसों कोबेचेगा. कंपनी देश में 2 अरब रुपये की लागत से ग्रीनफील्ड मैन्युफैक्चरिंग की सुविधा स्थापित कर रही है.

बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट की अनुसार गोल्डस्टोन इंफ्राटेक का कहा है कि यह इस साल शुरू हो जायेगा और कर्नाटक के बिदर में 100 लगभग एकड़ में फैलेगा. इसकी प्रति वर्ष लगभग 1,000 इकाइयों की प्रारंभिक क्षमता वाली होगी. कंपनी का कहना है कि वह 2020 तक अपनी क्षमता 25 प्रतिशत से बढाकर 50 प्रतिशत कर देगी. कंपनी जल्द भारत में बैटरी की शुरुआत भी करने जा रही है.

कंपनी चार्जिंग स्टेशनों की स्थापना के लिए भी विभिन्न राज्य परिवहन उपक्रमों (एसटीयू) और अन्य से भी बात कर रही है. आने वाले महीनों में कंपनी को उम्मीद है कि वह 390 इलेक्ट्रिक बसों की बोली के लिए 10 शहरों - मुंबई, अहमदाबाद, जम्मू, दिल्ली, लखनऊ, कोलकाता, गुवाहाटी, हैदराबाद, इंदौर और बेंगलुरु से बात करेगी.

कंपनी इस साल पड़ोसी देशों में बीवाईडी ब्रांड की बसों को निर्यात करना शुरू कर देगी.गोल्डस्टोन इंफ्राटेक ने चीन के BYD के साथ एक तकनीकी सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं, जो दुनिया के सबसे बड़े विद्युत वाहन निर्माताओं में से एक है.

बसों के अलावा, बीवाईडी इलेक्ट्रिक कारों और ट्रकों को भी बनाता है. गोल्डस्टोन 31 बसों के लिए ऑर्डर हासिल करने वाली पहली कंपनी है और 100 प्रतिशत इलेक्ट्रिक बसों के लिए दो एसटीयू- हिमाचल रोडवेज और ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (एचआरटीसी) से बात कर रही है. कंपनी ने दिल्ली, बेंगलुरु, हैदराबाद, राजकोट और चंडीगढ़ में अपनी विद्युत बसों का परीक्षण भी पूरा कर दिया है.

First published: 14 February 2018, 15:16 IST
 
अगली कहानी