Home » बिज़नेस » Maruti Suzuki sales slip 22% in May, posts sharpest fall in 7 years
 

लड़खड़ाया भारतीय कार बाजार, मारुति की बिक्री में 7 साल की सबसे बड़ी गिरावट

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 June 2019, 10:01 IST

भारत की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने मई में बिक्री में 22 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की है, जो अगस्त 2012 के बाद से सबसे तेज गिरावट है. यह लगातार तीसरा महीना है जब कंपनी की बिक्री घटी है. जबकि शीर्ष चार वाहन निर्माता - मारुति, महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा मोटर्स और होंडा कार्स इंडिया ने मिलकर महीने में 229,294 यूनिट्स बेचीं. पिछले साल इसी अवधि की तुलना में 20 प्रतिशत की गिरावट आई थी जब इन कंपनियों ने 286,484 यूनिट्स की बिक्री की थी.

मिनी सेगमेंट की बिक्री 56.7 प्रतिशत घटकर 16,394 इकाई रही, जबकि कॉम्पैक्ट 9.2 प्रतिशत घटकर 70,135 इकाई रह गई. यूटिलिटी वाहन 25.3 प्रतिशत घटकर 19,152 इकाई हो गए और वैन 29.7 प्रतिशत बढ़कर 11,745 इकाई हो गई. सियाज की बिक्री 10 प्रतिशत घटकर 3,592 इकाई रह गई, जबकि सुपर कैरी 4,551 प्रतिशत बढ़कर 2,232 इकाई हो गई. कुल घरेलू यात्री वाहन की बिक्री 1.5 प्रतिशत घटकर 145,000 इकाई रह गई.

कंपनी ने कहा कि मई में मारुति का निर्यात पिछले साल के इसी महीने में 9,312 इकाइयों के मुकाबले 2.4 प्रतिशत कम होकर 9,089 इकाई रहा. जापानी कार निर्माता कंपनी होंडा की भारतीय सहायक कंपनी होंडा कार्स इंडिया ने मई में 11,442 इकाइयां बेचीं, जिसमें पिछले साल की समान अवधि में 15,864 इकाइयों की तुलना में 28 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई.

घरेलु अर्थव्यवस्था संकट में

इसी तरह टोयोटा किर्लोस्कर मोटर ने मई 2019 में 12,138 इकाइयाँ बेचीं, जो पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 7 प्रतिशत की वृद्धि थी. महिंद्रा एंड महिंद्रा ने ट्रैक्टर बिक्री में 17 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की, जिससे संकेत मिलता है कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था में संकट जारी है. घरेलू ट्रैक्टर की बिक्री 17 प्रतिशत घटकर 23,539 इकाई रह गई.

Maruti Suzuki की बिक्री में बड़ी गिरावट, नहीं बिक रही ऑल्टो, स्विफ्ट जैसी कारें

First published: 2 June 2019, 13:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी