Home » बिज़नेस » MD CFO of Manpasand Beverages Ltd. were arrested by GST department for an alleged Rs 40-crore fake invoice scam
 

इस दिग्गज बेवरेज कंपनी का मालिक गिरफ्तार, GST चोरी का है आरोप, 20 फीसदी टूटे शेयर

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 May 2019, 13:12 IST

गुजरात आधारित पेय-पदार्थ बनाने वाली दिग्गज कंपनी मनपसंद बेवरेजेज के मालिक सहित तीन को GST चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. जैसे ही इसकी खबर लगी आज स्टॉक ट्रेडिंग के शुरुआती घंटों में ही कंपनी के शेयर में 20 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई.

सेंट्रल जीएसटी और कस्टम अधिकारियों ने फ्रूट ड्रिंक मैन्युफैक्चरिंग कंपनी मनपसंद बेवरेजेज के MD अभिषेक सिंह, उनके भाई हर्षवर्धन सिंह और CFO परेश ठाकुर को न्यायिक हिरासत में लिया गया है. मनपसंद बेवरेजेज पर फेक कंपनी यूनिट बनाकर फर्जी चालान के माध्यम से 40 करोड़ रुपये के टैक्स चोरी करने का आरोप है. गौरतलब है कि हाल ही में हैदराबाद में भी इसी तरह एक और टैक्स चोरी पकड़ी गई थी. ये सभी लोग फर्जी जीएसटी बिल (इनवायस) बनाकर इनपुट क्रेडिट हासिल कर रहे थे.

टैक्स चोरी के लिए बनाई 30 फर्जी कंपनियां

सेंट्रल जीएसटी और कस्टम विभाग की प्रेस रिलीज में कहा गया है, '‘जांच में देश के अलग-अलग कई हिस्सों में कंपनी की 30 से ज्यादा फर्जी यूनिट का भी खुलासा हुआ, जिन्हें अवैध तरीके से क्रेडिट लेने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा था. इस धोखाधड़ी को अंजाम देने के लिए दूसरी शेल कंपनियों के बारे में पता लगाया जा रहा है.''

धोखाधड़ी के नियत से फाइनेंशियल रिजल्ट घोषित करने में देरी

मनपसंद बेवरेजेज फ्रूट-जूस बनती है और मार्केट में इसके प्रोडक्ट्स ''मैंगो शिप, Siznal, X-Cite, Aprilla, etc. के नाम से बाजार में उपलब्ध हैं. इस कंपनी ने मैंगो फाइनेंशियल रिजल्ट घोषित करने में कंपनी ने की थी. इस वजह से कंपनी के शेयर में पिछले बारह महीनों में अपने मार्केट वैल्यू का लगभग 75 फीसदी नुकसान हुआ है.

First published: 27 May 2019, 13:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी