Home » बिज़नेस » Methanol blending in Petrol may be price cut of 10 rupees
 

मोदी सरकार 10 रुपये तक घटा सकती है पेट्रोल के दाम, बस इस प्रोजेक्ट का इंतजार

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 December 2018, 19:09 IST

मोदी सरकार एक बड़े प्रोजेक्ट पर काम कर रही है. अगर सरकार का यह प्रयोग सफल रहा तो पेट्रोल 10 रुपये प्रति लीटर तक सस्ता हो सकता है. बता दें कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव कम होने से पेट्रोल की कीमत में पिछले दो महीनों में 10 रुपये से ज्यादा की कटौती देखने को मिली है. 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मोदी सरकार पेट्रोल में मेथेनॉल मिलाकर पेट्रोल की कीमत में कटौती की योजना पर काम कर रही है. पुणे में 15 फीसदी मेथेनॉल मिले हुए पेट्रोल से गाड़ियां चलाने का काम शुरू होने जा रहा है.

 

माना जा रहा है कि अगर ट्रायल सफल रहा तो फिर देश भर के पेट्रोल पंपों पर मेथेनॉल मिला हुआ पेट्रोल बिकने लगेगा. इसका पूरा फायदा उपभोक्ताओं को मिलेगा और इस पूरी कवायद से पेट्रोल के दाम 10 रुपये तक घट सकेंगे. हालांकि सबकुछ ट्रायल पर टिका हुआ है. 

 

नीति आयोग की निगरानी में ही इसका ट्रायल चल रहा है. इसके नतीजे 2-3 महीने में आ जाएंगे. नीति आयोग की देखरेख में सरकार 15 फीसदी मेथेनॉल मिला पेट्रोल लाने की तैयारी कर चुकी है. फिलहाल पेट्रोल में इथेनॉल मिलाया जाता है.

बता देें कि मेथेनॉल के मुकाबले इथेनॉल बहुत महंगा है. इथेनॉल की कीमत करीब 40 रुपये प्रति लीटर है, वहीं मेथेनॉल मात्र 20 रुपये प्रति लीटर में आता है. मेथेनॉल कोयले से बनता है. जबकि इथेनॉल गन्ने से बनाया जाता है.

First published: 18 December 2018, 19:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी