Home » बिज़नेस » Missing in national job market: 2.8 crore rural women over the last six years
 

6 साल में जॉब मार्केट से गायब हो गई 2.8 करोड़ ग्रामीण महिलाएं : सर्वे

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 March 2019, 11:07 IST

2004-05 से पांच करोड़ से अधिक ग्रामीण महिलाओं ने राष्ट्रीय नौकरी बाजार छोड़ दिया है. 2011-12 के बाद से महिला भागीदारी में 7 प्रतिशत की कमी आई है, जो लगभग 2.8 करोड़ महिलाओं के बराबर है. एनएसएसओ द्वारा पीरियोडिक लेबर फोर्स सर्वे (पीएलएफएस) 2017-18 की एक रिपोर्ट के अनुसार इसमें 15-59 वर्ष की आयु वर्ग की संख्या अधिक है. सरकार ने ये सर्वे जारी नहीं किया.

इस ब्रैकेट में ग्रामीण महिलाओं की भागीदारी दर 2004-05 में 49.4 प्रतिशत से घटकर 2011-12 में 35.8 प्रतिशत और 2017-18 में 24.6 प्रतिशत हो गई. इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार हालांकि शहरी क्षेत्र में 2017-18 के अंत तक छह वर्षों में महिला भागीदारी में 0.4 प्रतिशत अंक की वृद्धि हुई, जो 12 लाख अधिक नौकरी चाहने वालों की संख्या थी.

 

इस रुख से शहरी नौकरी बाजार में महिलाओं की भागीदारी के रूप में रुझान 2004-5 और 2011-12 के बीच 2.2 प्रतिशत अंक गिर गया था. रिपोर्ट के मुताबिक खेतों में काम करने वाले लोगों की संख्या में 40 फीसदी से बड़ी गिरावट आयी है.

 खुशखबरी : दिल्ली में तैयार हैं DDA के नए फ्लैट, जानिए कीमत और ऐसे करें आवेदन

First published: 25 March 2019, 11:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी