Home » बिज़नेस » Mobile maker 'Lava' to bring its business from China to India, invest 800 crore
 

ये मोबाइल कंपनी चीन से समेटकर भारत ला रही है अपना कारोबार, करेगी 800 करोड़ का निवेश

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 May 2020, 15:25 IST

मोबाइल फोन बनाने भारतीय कंपनी लावा (LAVA) का कहना है कि वह जल्द अपना कारोबार चीन से भारत शिफ्ट करने जा रही है. कंपनी ने देश में अपने मोबाइल फोन के डेवलपमेंट और विनिर्माण कार्यों को बढ़ाने के लिए अगले पांच वर्षों में 800 करोड़ रुपये का निवेश करने की योजना बनाई है. कंपनी ने भारत में हाल में किए गए नीतिगत बदलावों के बाद यह फैसला किया है. एक रिपोर्ट के अनुसार लावा इंटरनेशनल के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक हरिओम राय ने कहा "हमारे पास उत्पाद डिजाइन के लिए चीन में लगभग 600-650 कर्मचारी थे. अब हमने भारत में डिजाइनिंग को स्थानांतरित कर दिया है''.

उन्होंने कहा ''भारत में हमारी बिक्री आवश्यकताओं को स्थानीय कारखाने से पूरा किया जा रहा है हम चीन से दुनिया के बाकी हिस्सों में आंशिक रूप से निर्यात करते थे, जो अब भारत से होगा''. कंपनी का कहना है कि लॉकडाउन अवधि के दौरान लावा ने चीन से ही अपनी निर्यात मांग पूरी की है.


Amazon के बेजोस 2026 में बन सकते हैं दुनिया के पहले खरबपति, अंबानी और जुकरबर्ग ?

राय ने कहा "मेरा सपना चीन के लिए मोबाइल उपकरणों का निर्यात करना है. भारतीय कंपनियां पहले से ही चीन को मोबाइल चार्जर का निर्यात कर रही हैं. उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन योजना के बाद पूरे ऑपरेशन भारत से किए जाएंगे.” अप्रैल में सरकार ने स्थानीय इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण को बढ़ावा देने और 2025 तक 20 लाख प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष नौकरियों का सृजन करने के लिए लगभग 48,000 करोड़ रुपये की कुल प्रोत्साहन वाली तीन योजनाओं को अधिसूचित किया.

अधिसूचना में उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन योजना (पीएलआई) शामिल है. इस योजना के तहत इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण कंपनियों को भारत में निर्मित वस्तुओं की वृद्धिशील बिक्री (आधार वर्ष) पर 4 से 6 प्रतिशत का प्रोत्साहन मिलेगा. राय ने कहा 'हम अपने परिचालन को बढ़ाने के लिए अगले पांच वर्षों में 800 करोड़ रुपये के निवेश की योजना पर काम कर रहे हैं.' देश में मोबाइल फोन का उत्पादन पिछले चार वर्षों में आठ गुना बढ़कर 2014-15 में 18,900 करोड़ रुपये से 2019-20 में 2 लाख करोड़ रुपये का हो गया है. 

उत्तराखंड : लॉकडाउन ने 250 करोड़ के फूलों का कारोबार किया चौपट

First published: 16 May 2020, 15:13 IST
 
अगली कहानी