Home » बिज़नेस » Modi 20 may increase age limit and amount under atal pension yojana
 

मोदी सरकार बना रही है ये प्लान, इस स्कीम में निवेश करने वालों को मिल सकती है बड़ी सौगात

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 June 2019, 17:10 IST

आने वाले समय में मोदी सरकार आम जनता को एक और बड़ी खुशखबरी दे सकती है. दरअसल, केंद्र सरकार अटल पेंशन योजना (एपीवाई) में पेंशन की सीमा और उम्र बढ़ाने के प्रस्ताव पर विचार विमर्श कर रही है.

पेंशन फंड रेगुलेटरी और डेवलपमेंट अथॉरिटी (पीएफआरडीए) ने हाल ही में ये प्रस्ताव वित्त मंत्रालय को भेजा है. यदि मोदी सरकार इस प्रस्ताव को अपनी हरी झंडी दे देती है, तो रिटायर होने के आपको जीवनभर पैसों की टेंशन से आजादी मिलेगी.


केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद को लिखित बयान देते हुए बताया, "अटल पेंशन योजना के प्रस्ताव की सरकार द्वारा जांच की गई है." बता दें कि अटल पेंशन योजना के तहत भारत सरकार से गारंटी रूप से पेंशन प्राप्त होता है, यह योजना पीएफआरडीए द्वारा संचालित की जाती है.

इसके तहत मिलने वाले लाभों की गारंटी भारत सरकार द्वारा दी जाती है. इस योजना से 18 से 40 वर्ष के आयु वाले भारतीय नागरिक बैंकों अथवा डाक घरों की शाखाओं के जरिए आसानी से जुड़ सकते हैं. बशर्ते उस बैंक अथवा डाकघर में लाभार्थी का बचत बैंक हो. इस योजना से अबतक 1 करोड़ से भी ज्यादा लोग जुड़ चुके हैं.

इस योजना का शुभारंभ प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 9 मई 2015 को कोलकाता के एक समारोह में किया गया था. इस योजना का उद्देश्य भारत के प्रदेश नागरिक को गारंटी रूप से पेशन देना है. इस योजना के तहत असंगठित क्षेत्र के उन कामगारों पर फोकस किया जाता है, जिनकी श्रम बल में कुल 85 फीसदी से भी अधिक हिस्सेदारी है.

इस स्कीम के तहत तहत 60 साल की उम्र पूरी के बाद प्रत्येक माह में 1000 रुपये या 2000 रुपये अथवा 3000 रुपये या 4000 रुपये अथवा 5000 रुपये की पेंशन मिलेगी. यह राशि स्कीमधारी के अंशदान पर निर्भर करेगी. इसके अलावा सदस्‍य के पत्‍नी या पति को भी पेंशन का अधिकार होगा. साथ ही नामित व्‍यक्ति को भी पेंशन पाने का अधिकार होगा.

गोल्ड की कीमतें छू रही हैं आसमान, भारत में डिमांड में बड़ी गिरावट

First published: 26 June 2019, 17:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी