Home » बिज़नेस » Modi government poured 12,000 crore into three major insurance companies
 

मोदी सरकार देश की तीन बड़ी बीमा कंपनियों में डालेगी 12,000 करोड़ रुपये

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 September 2019, 23:50 IST

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (PSB) के री-कैपिटलाइजेशन के बाद केंद्र सरकार सार्वजनिक क्षेत्र की बीमा कंपनियों नेशनल इंश्योरेंस, ओरिएंटल इंश्योरेंस और यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस को 12,000 करोड़ का फंड देगी. बजट में PSB री-कैपिटलाइजेशन के लिए 70,000 करोड़ का प्रावधान किया गया था और पिछले सप्ताह नियामक और विकास आवश्यकताओं के लिए कुछ PSB में 55,250-करोड़ डालने की घोषणा की गई थी.

वित्तीय सेवा के नोडल विभाग ने तीन राज्य-संचालित सामान्य बीमा कंपनियों में 12,000 करोड़ की पूंजी योजना को मंजूरी दी है क्योंकि उनकी वित्तीय स्थिति बहुत कमजोर है. पिछले साल के बजट ने इन तीन बीमा कंपनियों को मर्ज करने की योजना की घोषणा की गई थी. कंपनियों के खराब वित्तीय स्वास्थ्य सहित विभिन्न कारणों से विलय की प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी थी.

लिस्टिंग क्र लिए 1.5 का सॉल्वेंसी रेशियो मानदंड चाहिए, जबकि वर्तमान में दो कंपनियों के मामले में ऐसा नहीं है. सार्वजनिक क्षेत्र की सामान्य बीमा कंपनियों में मर्जर सरकार की विनिवेश रणनीति का हिस्सा है.

सूत्रों ने कहा कि सरकार को इन तीन कंपनियों में 12,000-13,000 करोड़ का निवेश करना होगा ताकि वे अपनी सॉल्वेंसी अनुपात में सुधार कर सकें और उन्हें विलय के लिए तैयार कर सकें. इन तीनों बीमा कंपनियों का विलय कैपिटल इन्फ्यूजन के बाद किया जाएगा और विलय के बाद यह इकाई देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी होगी.

BSNL अपने 80 हजार कर्मचारियों को देना चाहता है VRS : रिपोर्ट

First published: 6 September 2019, 15:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी