Home » बिज़नेस » modi government udyam mitra scheem: start fruit jam and squash business with low investment
 

प्रत्येक महीने 75 हजार तक करें कमाई, मोदी सरकार की जबरदस्त 'उद्यमी मित्र स्‍कीम'

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 June 2019, 19:11 IST

मोदी सरकार बिज़नेस को प्रोत्साहन देने के लिए स्टार्टअप इंडिया, मुद्रा योजना जैसी कई योजनाएं चला रही है. एक ऐसी ही स्कीम है ''उद्यमी मित्र स्‍कीम'' इसका लाभ लेकर आप भी सफल व्यवसायी बन सकते हैं. यहां एक ऐसे ही बिज़नेस की जानकारी दी जा रही है जिसके जरिए आप 60 हजार से 1 लाख रुपये प्रतिमाह की कमाई कर सकते हैं.

पैसा कमाने का सबसे सुगम और बेहतरीन जरिया होता है व्यापर. हालांकि हमारे देश के युवाओं का झुकाव नौकरी की तरफ होता है लेकिन इसमें संभावनाएं सिमित होती है. जबकि बिज़नेस में आमदनी की कोई लिमिट नहीं होती. अगर लेटेस्ट और बेहद सटीक बिज़नेस आईडिया के साथ व्यापर शुरु किया जाए एवं संसाधन का अधिक से अधिक सदुपयोग किया जाये तो लाखों रुपये प्रतिमाह की कमाई की जा सकती है. इसके अलावा अन्य लोगों को भी रोजगार मिलेगा.

उद्यमी मित्र स्‍कीम

हम जैम और जेली जैसे फूड सप्‍लीमेंट आइटम के बिज़नेस के बारे में जानकारी दे रहे हैं क्योंकि रेडी-टू-ईट प्रोडक्‍ट्स की मार्केट में तेजी से डिमांड बढ़ रही है. आप फ्रूट जैम, स्‍क्‍वॉश का बिजनेस शुरू कर सकते हैं. इस बिज़नेस को करने के लिए सरकार से लोन. केंद्र सरकार इस प्रोजेक्‍ट के लिए उद्यमी मित्र स्‍कीम के तहत लोन देती है.

इतने रुपये का इन्वेस्मेंट

उद्यमी मित्र स्‍कीम के अंतर्गत केंद सरकार द्वारा तैयार किए गए मॉडल प्रोजेक्‍ट के मुताबिक, फ्रूट जैम, स्‍क्‍वॉश और कॉकटेल की यूनिट लगाना चाहते हैं तो आपके पास 9.08 लाख रुपये की पूंजी होनी चाहिए. जबकि पूरे प्रोजेक्‍ट की लागत 36.30 लाख रुपये आएगी. इस यूनिट में 12 लाख रुपये की प्‍लांट एंड मशीनरी, वर्किग कैपिटल के लिए 21.60 लाख रुपये इंटीरियर फर्नीचर पर 1.5 लाख, 1.2 लाख रूपये का अन्‍य खर्च शामिल हैं. कुल लागत का 27.23 लाख रुपये बैंक से लोन मिल जाएगा. इस तरह की यूनिट से आप लगभग सालाना लगभग 30 टन उत्पादन कर सकते हैं.

 

इतना होगा मुनाफा

इस व्यवसाय के जानकारों के मुताबिक, यदि आप पहले साल में अपनी फैक्ट्री की उत्पादन कैपेसिटी का 60 प्रतिशत उपयोग कर लेते हैं तो आपकी कुल बिक्री 64.80 लाख रूपये होगी. इसमें से कच्चे माल और अन्‍य खर्चे करीब 44.64 लाख रुपये होंगे. इसी तरह लागत से 20.16 लाख रुपये अधिक आमदनी होगी. इसमें लोन पर ब्‍याज 2.72 लाख (10%), ओवरहेड 3.90 लाख, डेप्रिशिएसन (30 %) 3.60 लाख रुपये कम कर दिया जाए तो आपको करीब 9 लाख रुपये होगा जो की 75 हजार रूपये प्रतिमाह होगा. आपका मुनाफा साल दर साल बढ़ते ही जाएगा. शुरू्अात के अगले साल ऊत्पादन कैपेसिटी का 70 फीसदी ऊपयोग होने पर करीब 14.13 लाख रुपये सालाना मुनाफा होगा.

अधिक जानकारी के लिए आप udyamimitra.in पोर्टल के माध्‍यम से ले सकते हैं.

First published: 20 June 2019, 19:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी