Home » बिज़नेस » modi govt free to 40 lakh income tax dues
 

मोदी सरकार 40 लाख लोगों का बकाया इनकम टैक्स बकाया माफ कर सकती है

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 7:52 IST
(पीटीआई)

मोदी सरकार पहली बार देश में बड़े पैमाने पर इन्‍कम टैक्‍स पर ‘टैक्‍स माफी’ का विचार कर रही है. इसके पीछे सोच यह है कि इससे लंबित कानूनी मामले घटेंगे, टैक्‍स वसूली का खर्च कम होगा और बड़े कर चोरों पर ज्यादा ध्यान दिया सकेगा.

इसी सोच के साथ केंद्र सरकार लगभग 40 लाख लोगों पर 600 करोड़ रुपए का बकाया आयकर माफ कर सकती है. इस फैसले से उन लोगों को फायदा मिलेगा, जिन पर 5000 रुपए से ज्‍यादा का टैक्‍स बकाया नहीं हो.

इन्कम टैक्स विभाग के मुताबिक बीते तीन साल में ऐसे बकायेदारों की संख्‍या 40 लाख तक पहुंच गई है.

सरकार पांच हजार रुपए तक के रिफंड मामले को निपटाने में तेजी ला रही है. इस मामले में आयकर विभाग ने एक विशेष सर्कुलर भी जारी किया है.

इस सर्कुलर के मुताबिक पिछले तीन साल के रिफंड के मामलों में सबसे ज्‍यादा 5000 रुपये तक के ही हैं. विभाग की ओर से दिशा-निर्देश है कि इन मामलों का जल्द निपटारा किया जाए.

हालांकि, विभाग की ओर से पांच हजार रुपए तक के टैक्‍स माफ किए जाने को लेकर अभी तक आधिकारिक रूप से अभी कुछ नहीं कहा गया है.

साल 2014-15 में केंद्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने रिफंड के 13 लाख मामले निपटाए हैं. इनसे करीब 267 अरब रुपए का रिफंड भुगतान किया गया है.

गौरतलब है कि रिफंड सरकार से वापस मिली उस अतिरिक्‍त रकम को कहते हैं जो टैक्सपेयर ने बतौर टैक्‍स जमा कराया था.

टैक्‍स अदाकर्ता रिटर्न भर कर इस अतिरिक्‍त रकम की वापसी का क्‍लेम कर सकते हैं. इसके बाद इनकम टैक्‍स विभाग की ओर से वह रकम उनके बैंक खाते में जमा करा दी जाती है.

First published: 4 August 2016, 5:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी