Home » बिज़नेस » Mukesh Ambani's Reliance Industries may buy stake in Jet Airways
 

जेट एयरवेज में हिस्सेदारी खरीद सकती है मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 April 2019, 10:45 IST

 

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड जेट एयरवेज और एयर इंडिया में हिस्सेदारी खरीद सकती है. जेट एयरवेज और एयर इंडिया ने पिछले वित्त वर्ष में नुकसान की सूचना दी है. दोनों की अब बाजार हिस्सेदारी अब 25 प्रतिशत से भी कम हो चुकी है. लगभग 25 वर्षों के लिए उच्च उड़ान भरने के बाद जेट एयरवेज ने बुधवार को अपने परिचालन को निलंबित कर दिया, जब भारतीय स्टेट बैंक के नेतृत्व में उधारदाताओं ने आपातकालीन अंतरिम धनराशि में 983 करोड़ रुपये से इनकार कर दिया.

रिलायंस उन पार्टियों में से नहीं है, जिन्होंने जेट एयरवेज का अधिग्रहण करने के लिए लेंडर्स को एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (EoI) दिया था. इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार बोली प्रक्रिया में इतिहाद एयरवेज भी शामिल हो सकता है. एतिहाद के वर्तमान में वर्तमान में जेट एयरवेज में 24 प्रतिशत की हिस्सेदारी है.

मौजूदा एफडीआई मानदंडों को देखते हुए, एतिहाद जेट एयरवेज में ऑटोमैटिक रूट के तहत अपनी हिस्सेदारी को 24% से बढ़ाकर 49% कर सकती है. इसके अलावा इसे सरकार की मंजूरी की आवश्यकता होगी. नागरिक उड्डयन में FDI मानदंड NRI को स्वचालित मार्ग के तहत एयरलाइंस में 100% हासिल करने की अनुमति देते हैं.

रिपोर्ट के अनुसार रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के प्रवक्ता ने कहा: “हम मीडिया अटकलों और अफवाहों पर टिप्पणी नहीं करते हैं. हमारी कंपनी निरंतर आधार पर विभिन्न अवसरों का मूल्यांकन करती है. हमने भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सूची निर्धारण और प्रकटीकरण आवश्यकताएँ) विनियम 2015 और स्टॉक एक्सचेंजों के साथ हमारे समझौतों के तहत अपने दायित्वों के अनुपालन में आवश्यक खुलासे करना जारी रखा है."

First published: 20 April 2019, 10:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी