Home » बिज़नेस » Nirav Modi sold fake diamonds to Canadian national, his engagement is now broken
 

नीरव मोदी ने बेची करोड़ों की नकली डायमंड रिंग, टूट गई कनाडा के इस व्यक्ति की मंगनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 October 2018, 13:25 IST

करोड़ों की बैंक धोखाधड़ी में वांटेड ज्वैलर नीरव मोदी ने कथित तौर पर कनाडाई मूल के एक व्यक्ति को ऐसा सदमा दिया कि उसकी ज़िन्दगी हमेशा के लिए बर्बाद हो गई. दरअसल नीरव मोदी ने इस व्यक्ति को 200,000 अमेरिकी डॉलर की कीमत की नकली डायमंड रिंग बेची. अल्फांसो  नाम के व्यक्ति ने यह रिंग अपनी गर्ल फ्रेंड के लिए खरीदी थी. दक्षिण चीन मॉर्निंग पोस्ट की एक रिपोर्ट के मुताबिक पॉल अल्फांसो  जिन्हें नहीं पता था कि नीरव मोदी भारत के पंजाब नेशनल बैंक से 2 बिलियन डॉलर की धोखाधड़ी में शामिल है. व्यक्ति ने अपनी प्रेमिका को प्रपोज़ करने के लिए हांगकांग में दो डायमंड रिंग खरीदी थी लेकिन जब दोनों को पता चला कि हीरा नकली है, दोनों सदमे में चले गए. दोनों की एंगेजमेंट टूट गई.

रिपोर्ट के अनुसार 2012 में बेवर्ली हिल्स होटल के लिए शताब्दी समारोह में अल्फांसो ने नीरव मोदी से मुलाकात की थी. महीनों बाद दोनों ने मालिबु में एक-दूसरे से मिले. पेमेंट प्रोसेसिंग कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अल्फोन्सो ने कहा कि मोदी के साथ अच्छे संबंध बन गए थे. दोनों के बीच कुछ साल तक बातचीत नहीं हुई. इस साल अप्रैल तक अल्फोन्सो मोदी के खिलाफ वित्तीय अनियमितताओं के मामलों से पूरी तरह से अनजान थे.

अल्फोन्सो ने नीरव मोदी को मेल किया और कहा कि उन्हें 100,000 अमेरिकी डॉलर के बजट में एक स्पेशल एंगेजमेंट रिंग की जरूरत है क्योंकि वह अपनी गर्ल फ्रेंड को प्रपोज़ करने जा रहे हैं. पॉल अल्फांसो से डिजाइन को मंजूरी मिलने के बाद मोदी ने लिखा, "मेरे बारे में सोचने के लिए धन्यवाद. वो भी तब जब आप किसी भी व्यक्ति के जीवन में सबसे सार्थक खरीद कर रहे हैं''.

हालांकि अल्फांसो  की प्रेमिका ने दूसरी अंगूठी में दिलचस्पी दिखाई, जिसके बाद दूसरी अंगूठी का भी ऑर्डर दिया गया. इस खरीद के बदले 80,000 अमेरिकी डॉलर 2.5 कैरेट के हीरे के लिए अल्फांसो ने हांगकांग के मोदी खाते में ट्रांसफर किये. जून में मोदी की सहायक एरी ने रिंग अल्फोन्सो को दिए. अल्फोन्सो और उनके मंगेतर दोनों चाहते थे कि अंगूठियां का बीमा हो लेकिन प्रमाण पत्र अभी भी नहीं पहुंचे थे. दोनों ने मोदी को कई मेल किये मोदी ने आश्वासन दिया कि प्रमाण पत्र भेजे जा रहे हैं.

अगस्त में अल्फांसो को तब एक बड़ा झटका लगा जब उन्हें और उनकी मंगेतर को पता चला कि हीरे नकली थे. इसके बाद दोनों को गहरा झटका लगा क्योंकि उन्होंने रिंग पर 200,000 अमेरिकी डॉलर खर्च किये थे. बाद में दोनों को मोदी की दिवालिया कंपनियों और फ्रॉड के बारे में खबरें पढ़ने पर एक और झटका लगा. इसके बाद जल्द ही दोनों का रिश्ता टूट गया. अल्फोन्सो गहरे सदमे में चला गया और उसने कहा वह उसके बाद अब तक काम नहीं कर पा रहा है. 13 अगस्त को मोदी को गुस्से में लिखे ईमेल में अल्फोन्सो ने लिखा, "क्या आपको इस बाद का अंदेशा है कि आपने मुझे कितना बड़ा दुःख दिया है. तुमने मेरा जीवन बर्बाद कर दिया है."

अल्फोंसो ने कैलिफ़ोर्निया के सुपीरियर कोर्ट के साथ मोदी के खिलाफ असीमित नागरिक मुकदमा दायर किया है, जिसमें उसने 4.2 मिलियन अमेरिकी डॉलर की मांग की है. इसमें अंगूठियों के मूल्य के लिए 200,000 अमेरिकी डॉलर, दंडनीय क्षति के लिए यूएस 1 मिलियन डॉलर और भावनात्मक संकट, दर्द और पीड़ा के लिए 3 मिलियन अमेरिकी डॉलर शामिल हैं. इसकी सुनवाई अगले साल जनवरी के लिए निर्धारित है. हालांकि अल्फोन्सो, यह बहुत अच्छी तरह से महसूस कर सकता है कि उसे इस दर्द से बाहर निकलने के लिए सालों लग सकते हैं. फिर भी अविश्वास में अल्फोन्सो कहते हैं, "मैं चाहता हूं कि लोग यह जान लें कि इस आदमी पर भरोसा नहीं किया जा सकता.

First published: 8 October 2018, 11:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी