Home » बिज़नेस » Non Chip ATM Cards Will Go Along Also After 31 December
 

बिना चिप वाले ATM धारकों को इन बैंकों ने दी बड़ी राहत, जानें क्या है उनके लिए खास

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 December 2018, 23:34 IST

31 दिसंबर के बाद बिना चिप वाले एटीएम कार्ड काम करना बंद कर देंगे, ये खबर आपको परेशान जरूर कर रही होगी, लेकिन अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है.क्योंकि बिना चिप वाले एटीएम कार्डधारकों के लिए राहत भरी खबर है.दरअसल, 31 दिसंबर के बाद भी बिना चिप वाले एटीएम कार्ड चलते रहेंगे. खासतौर पर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया यानि SBI और बैंक ऑफ बड़ौदा ने ये साफ कर दिया है कि उनके खाताधारकों के एटीएम कार्ड 31 दिसंबर के बाद भी काम करते रहेंगे.

बता दें कि एटीएम कार्ड के जरिए हो रहे फ्राड से खाताधारकों को बचाने के लिए बैंक अपने ग्राहकों को चिप वाले एटीएम कार्ड लाए जा रहे हैं. इनका वितरण भी हो रहा है. बैंक दो तरह से खाताधारकों को एटीएम कार्ड दे रहे हैं. कुछ बैंक सीधे शाखाओं से एटीएम कार्ड बदलकर दे रहे हैं. ये एटीएम कार्ड सादे हैं, बस उनमें चिप लगी हुई है. इन सभी कार्ड को 72 घंटे में एक्टिवेट कराना है. ऐसे में पुराना एटीएम कार्ड खुद बंद हो जाएगा.

वहीं दूसरी ओर कुछ बैंकों के खाताधारकों के एटीएम कार्ड मुख्यालय से प्रिंट होकर आ रहे हैं. इनके आने पर खाताधारकों को उनके अधिकृत मोबाइल नंबर पर मैसेज किया जा रहा है या फोन कर शाखा बुलाया जा रहा है. स्टेट बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा के एटीएम कार्ड इसी तरह दिए जा रहे हैं. एटीएम कार्ड बनाए जाने की केंद्रीय व्यवस्था होने की वजह से बहुत बड़ी संख्या में खाताधारकों को एटीएम कार्ड अभी नहीं मिले हैं.

ये भी पढ़ें- IRCTC का श्रद्धालुओं को तोहफा, इतने रुपये में करें चार ज्योतिर्लिंग और शिरडी साईं की यात्रा

बैंक ऑफ बड़ौदा के डीजीएम ने बताया कि, "बैंक ऑफ बड़ौदा के एटीएम कार्ड अभी बंद नहीं होंगे. वे एक जनवरी के बाद भी चलते रहेंगे. जिन खाताधारकों के एटीएम कार्ड आते जा रहे हैं, उन्हें दिए जा रहे हैं.

वहीं स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के डीजीएम ने बताया कि, "अभी पुराने बिना चिप वाले एटीएम कार्ड बंद नहीं होंगे. जिनके कार्ड बनते जा रहे हैं, वे उन्हें एक्टिव करते जा रहे हैं. जल्दी से जल्दी कार्ड देने की कोशिश हो रही है.

ये भी पढ़ें- चिप वाला ATM यूज करने वाले हो जाएं सावधान, वरना ऐसे खाली हो जाएगा आपका अकाउंट

First published: 29 December 2018, 23:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी