Home » बिज़नेस » Now Subramanian Swamy targets chief economic adviser Arvind Subramanian
 

राजन के बाद अब स्वामी Vs सुब्रमण्यन

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 June 2016, 11:35 IST
(पीटीआई)

आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन को हटाने की मुहिम चलाने के बाद बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने अब केंद्र सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन को हटाने की मांग की है.

स्वामी ने आरोप लगाया है कि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) पर कांग्रेस को अड़े रहने के लिए अरविंद ने ही उकसाया. स्वामी ने यह भी कहा कि अमेरिकी दवा कंपनियों के हितों की रक्षा के लिए अरविंद सुब्रमण्यन ने ही अमेरिका को भारत के खिलाफ मार्च 2013 में कार्रवाई के लिए कहा था.

'जीएसटी पर कांग्रेस को उकसाया'

मंगलवार सुबह के एक के बाद एक ट्वीट करते हुए स्वामी ने सुब्रमण्यन पर निशाना साधा. स्वामी ने ट्वीट किया, "अनुमान लगाइए जीएसटी पर कांग्रेस को अपने रुख पर अड़े रहने के लिए किसने प्रोत्साहित किया? जेटली के आर्थिक सलाहकार वाशिंगटन डीसी के अरविंद सुब्रमण्यन."

पढ़ें: सुब्रमण्यम स्वामी: आरबीआई गवर्नर को शिकागो भेज देना चाहिए

'अरविंद सुब्रमण्यन को हटाया जाए'

एक और ट्वीट के जरिए स्वामी ने मुख्य आर्थिक सलाहकार पर हमला करते हुए कहा, " अमेरिकी कांग्रेस को 13 मार्च 2013 को किसने कहा कि अमेरिकी दवा कंपनियों के हितों की रक्षा के लिए अमेरिका को भारत के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए? अरविंद सुब्रमण्यन, वित्त मंत्रालय. उन्हें हटाया जाए."

स्वामी का कहना है, "अरविंद सुब्रमण्यन अमेरिका में काम करते थे. अमेरिकी कांग्रेस भारत के रुख को लेकर सुनवाई कर रही थी. उसमें अरविंद ने कहा कि भारत अमेरिका के अनुकूल नहीं चल रहा है. हमें उन्हें सबक सिखाने के लिए डब्लूटीओ में अड़ंगा डालना चाहिए."

पढ़ें: दूसरा कार्यकाल नहीं चाहते रघुराम राजन

स्वामी ने साथ ही कहा, "इस तरह के व्यक्ति को सलाहकार बना रहे हैं. वे यहां आकर वित्त मंत्री को सलाह दे रहे हैं कि कांग्रेस जीएसटी को लेकर जो सलाह दे रही है, उसे मान लेना चाहिए. ऐसे लोग हमारी पार्टी की सरकार को फेल कर सकते हैं. उन्हें हमें नहीं रखना चाहिए."

First published: 22 June 2016, 11:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी