Home » बिज़नेस » on budget 2019: Nirmala Sitharaman More tax on rich people will help poor
 

वित्तमंत्री का खुलासा, गरीबों की भलाई के लिए अमीरों के साथ किया ये काम

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 July 2019, 17:12 IST

5 जुलाई को पेश किए गए बजट में मोदी सरकार ने अमीरों की झोली से पैसे निकालकर गरीबों को फायदा पहुंचाने का काम किया. यानि ज्यादा अमीरों पर टैक्स का बोझ बढ़ाया गया तो गरीबों, छोटे दुकानदारों और किसानों जैसे आर्थिक तौर पर पिछड़े वर्गों के लिए पेंशन और अन्य सुविधाओं का किया. अब वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया है कि अति समृद्ध (सुपर रिच) लोगों पर लगाए गए टैक्स से गरीबों के लिए मदद में उनका थोड़ा और योगदान होगा. वित्तमंत्री ने चेन्नई के नागरथर चैंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा आयोजित इंटरनेशनल बिजनेस कान्फ्रेंस का उद्घाटन करते हुए कहा कि भारत में सुपर रिच की कैटेगरी में 5,000 से अधिक लोग नहीं हैं.

निर्मला सीतारमण ने जोर देकर कहा कि अति समृद्धि लोगों को गरीबों की मदद करने के सरकार के दायित्व में भागीदार होना चाहिए. वित्तमंत्री ने देश के विकास और नौकरी पैदा करने में भारतीय कॉरपोरेट के कार्यो की सराहना करते हुए कहा, "पिछले 60 साल से हम अपने अधिकारों की बात करते रहे लेकिन कर्तव्य कम से कम निभाया गया." गरीब लोग बिना किसी रिटर्न के अपना कर्तव्य करते हैं इसलिए सरकार उन्हें नि:शुल्क शिक्षा, स्वास्थ्य और अन्य बुनियादी लाभ मुहैया करा रही है.

वित्त मंत्री ने कहा कि बजट का मुख्य उद्देश्य सरकार की ओर से गरीबों, युवाओं को आवश्यक मदद प्रदान करना है. केंद्र सरकार जीवन-यापन को सुगम बनाने और कारोबार को उन्नत बनाने की दिशा में काम कर रही है.

First published: 21 July 2019, 17:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी