Home » बिज़नेस » Organized sector jobs came in 2017, more than 65 percent decline
 

संगठित क्षेत्र की नौकरियों में 2017 में आयी थी 65 फीसदी से ज्यादा की गिरावट

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 February 2018, 12:48 IST

इस साल केंद्रीय बजट में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने एक स्वतंत्र अध्ययन का हवाला देते हुए कहा था कि सरकार द्वारा उठाए गए विभिन्न उपायों के कारण 2017-18 में 70 लाख नौकरियों का निर्माण हुआ. लेकिन आंकड़े कुछ और ही कहानी बयां करते हैं. बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के अनुसार संगठित क्षेत्र की नौकरियों में अप्रैल-जून 2017 की तिमाही के दौरान लगभग 65 प्रतिशत की कमी आयी.

रिपोर्ट के अनुसार श्रम ब्यूरो के रोज़गार पर आंकड़े बताते हैं कि संगठित क्षेत्र की नौकरियां अप्रैल-जून 2017 की तिमाही में जनवरी-मार्च 2017 की तिमाही से 185,000 से लगभग 65 प्रतिशत घटकर 64,000 हो गई.

 

श्रम ब्यूरो ने आठ क्षेत्रों कंस्ट्रक्शन, मैन्युफैक्चरिंग, व्यापार, परिवहन, शिक्षा, स्वास्थ्य, आवास और रेस्तरां और सूचना प्रौद्योगिकी को लेकर सर्वेक्षण किया था. देश में कम से कम 10 श्रमिकों को रोजगार देने वाले कुल कारखानों का यह 81 प्रतिशत हिस्सा है.

ये भी पढ़ें : दक्षिण अफ्रीका में राजनीतिक तूफ़ान लाने वाले गुप्ता बंधुओं को 'Z सुरक्षा' दे रही थी उत्तराखंड सरकार

अप्रैल-जून में विनिर्माण क्षेत्र में नौकरियों में कमी 87,000 थी. जबकि पिछले साल 102,000 नई नौकरियां बनी थी. जनवरी-मार्च में ट्रांसपोर्ट सेक्टर में 3,000 नौकरियों कमी आयी. व्यापार और सूचना प्रौद्योगिकी में रोजगार सृजन की गति धीमी हुई हालांकि व्यापार में अप्रैल-जून में 7,000 नई नौकरियों का निर्माण हुआ.

जो पिछली तिमाही में 29,000 थी. इसी तरह आईटी और बीपीओ क्षेत्र में नई नौकरियों की संख्या अप्रैल-जून की तिमाही में 2,000 थी, जो पिछली तिमाही में 13,000 थी.

First published: 18 February 2018, 12:48 IST
 
अगली कहानी