Home » बिज़नेस » Patanjali: Baba Ramdev success, Aditya pittie is the person behind it not balkrishna
 

इस युवा ने पतंजलि को बुलंदियों पर पहुंचाया, बाबा रामदेव चलाते थे छोटी सी फार्मेसी

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 November 2018, 16:11 IST

आज पतंजलि ग्रुप किसी पहचान की मोहताज़ नहीं है. पतंजलि के FMCG (रोजमर्रा के जरुरत की वस्तुएं) प्रोडक्ट्स बड़ी -बड़ी मल्टीनेशनल कंपनियों को टक्कर दे रही है. साल 1997 में सिर्फ एक छोटी सी फार्मेसी से शुरुआत करने वाली पतंजलि आज 11,000 करोड़ रुपये की कंपनी बन गई है.

आम लोग समझते हैं क‍ि बाबा रामदेव की सफलता के पीछे उनके सहयोगी बालकृष्‍ण का हाथ है, लेक‍िन हकीकत ये है कि बिज़नेस मैनेजमेंट के प्रोफेशनल एक युवा ने पतंजलि को इस मुकाम पर पहुंचाया.

पतंजलि और बाबा रामदेव को व्यापर की बुलंदियों पर पहुंचाने वाले इस युवा का नाम आदित्य पिट्टी है. आदित्य ने बिज़नेस मैनेजमेंट की पढ़ाई लंदन के किंग्स कॉलेज से की है और अपनी प्रतिभा से पतंजलि के एफएमसीजी कारोबार को अरबों का बना दिया. आज पतंजली 11 हजार करोड़ की कंपनी बनकर देश की दिग्गज कंपनियों में से एक गिनी जाती है.

पतंजलि और बाबा रामदेव को व्यापर की बुलंदियों पर पहुंचाने वाले इस युवा का नाम आदित्य पिट्टी है. आदित्य ने बिज़नेस मैनेजमेंट की पढ़ाई लंदन के किंग्स कॉलेज से की है और अपनी प्रतिभा से पतंजलि के एफएमसीजी कारोबार को अरबों का बना दिया. आज पतंजली 11 हजार करोड़ की कंपनी बनकर देश की दिग्गज कंपनियों में से एक गिनी जाती है.

साल 2013 में पतंजलि ग्रुप मात्र 1,000 करोड़ रुपए का था और आज लगभग 11 हजार करोड़ रुपए के साथ देश की बड़ी कंपनियों में शुमार है. दरअसल पतंजलि की सोल डिस्ट्रीब्यूटर पिट्टी ग्रुप के पास है. आदित्य की कंपनी पिट्टी ग्रुप का रेवेन्यू भी बढ़कर 1,200 करोड़ रुपए का हो गया है. पिट्टी ग्रुप के साथ पार्टनरशिप के बाद पतंजलि ने अपने प्रोडक्ट्स को आरोग्य केंद्र और चिकित्सालय के एक्सक्लूसिव नेटवर्क से बाहर खुले बाजार में भी बेचने का फैसला किया था.

इसी के साथ पतंजलि के व्यापार में एक तरह से क्रांति आयी. आदित्य पिट्टी ने मॉडर्न ट्रेड डिस्ट्रिब्यूटरशिप से इंडियन कन्जयूमर्स के बीच सस्ती दरों पर सामान पहुंचाया और मार्केटिंग करके पतंजलि के लिए राष्ट्रवाद के उभार को अच्छे से भुनाया. आज की तारीख में पतंजलि के पास 10,000 फ्रेंचाइजी बेस्ड स्टोर्स का नेटवर्क है और इसके उत्पाद 10 लाख किराना स्टोर्स में बिक रहे हैं. आदित्य पिट्टी ने अपनी क्षमता के बदौलत पतंजलि को अर्श से फर्श पर पहुंचाया.

First published: 2 November 2018, 16:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी