Home » बिज़नेस » Pepsico India to withdraw all cases against Gujarat potato farmers
 

गुजरात के आलू किसानों की बड़ी जीत, पेप्सिको ने वापस लिए सभी केस

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 May 2019, 10:11 IST

गुजरात के किसानों को पेप्सिको कंपनी के खिलाफ बड़ी जीत हासिल हुई है. कोल्ड ड्रिंक्स और चिप्स जैसा उत्पाद बनाने वाली इस कंपनी ने किसानों पर दर्ज कराए गए मामलों को वापस ले लिया है. यही नहीं किसानों ने कंपनी से प्रतीकात्मक तौर पर हर्जाना भी लिया है.बता दें कि पेप्सिको कंपनी गुजरात के किसानों के खिलाफ आलू की एक खास किस्म उगाने वाले किसानों पर मुकदमा दर्ज कराया था. उसके बाद किसानों ने कंपनी के खिलाफ खूब प्रदर्शन किया था.

पेप्सिको इंडिया ने गुजरात के अरावली, साबारकांठा, बानसकांठा, और डीसा जिले के 11 किसानों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था. जिसमें इन किसानों पर आरोप लगाया गया था कि किसानों ने आलू की उस किस्म का उत्पादन किया है, जिसका इस्तेमाल वो अपने चिप्स बनाने के लिए करती है.

किसानों पर दर्ज हुए मामलों को वापस लेते हुए कंपनी ने किसानों को प्रतीकात्मक तौर पर एक रुपये का हर्जाना भी दिया है. किसानों की तरफ से वकील आनंद याज्ञनिक ने बताया कि उन्होंने अमेरिकी कंपनी की भारतीय इकाई से मानहानि और बेमतलब के केस में फंसाने के लिए एक रुपये हर्जाना के तौर पर लिया.

 

क्या है पूरा मामला

गुजरात के कुछ किसानों ने ऐसे आलू का अपने खेतों में उत्पादन किया था, जिसका प्रयोग पेप्सिको चिप्प बनाने के लिए करती है. कंपनी को जब इस बात की जानकारी मिली तो पेप्सिको ने यहां के 11 किसानों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया. उसके बाद किसानों ने कंपनी के खिलाफ प्रदर्शन किया. किसानों का आक्रोश बढ़ता देख पेप्सिको ने ये मुकदमा वापस लेने के लिए शर्त रख दी. उसके बाद किसान पहले से ज्यादा भड़क गएआखिर में पेप्सिको को किसानों के आगे झुकना पड़ाबता दें कि पेप्सिको ने किसानों पर ये आरोप लगाया कि ये किसान जो आलू उगा रहे हैं उसे उगाने का अधिकार सिर्फ उनके पास है ना कि किसानों के पास.

पाकिस्तान के रास्ते भारत में घुस आया विदेशी विमान, वायुसेना ने सुखोई से कराई इमरजेंसी लैंडिंग

First published: 11 May 2019, 10:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी