Home » बिज़नेस » PF Account holders should know these things to close their account before 5 years
 

PF खाता धारकों के लिए आई ये बड़ी खबर, अकाउंट बंद करने को लेकर बदले ये नियम

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 October 2019, 11:11 IST

अगर आप नौकरी करते हैं और आपका PF अकाउंट है तो ये आपके लिए जरूरी खबर है. क्योंकि सरकार ने पीएफ अकाउंट को बंद करने संबंधी नियमों में बड़ा बदलाव किया है. जिसके मुताबिक, अगर कोई ईपीएफ खाता धारक अपना अकाउंट बंद कर पूरा पैसा निकालना चाहता है तो उसे भारी-भरकम टैक्स चुकाना होगा. दरअसल, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने पांच साल से पहले ईपीएफ खाता बंदकर पूरा भुगतान लेने पर TDS कटौती के नियम सख्त कर दिए हैं.

यानी अगर कोई EPF खाताधारक पांच साल से पहले पूरा पैसा निकालकर अपना खाता बंद करना चाहता है तो उसे भुगतान लेने पर 10 से 34 फीसदी तक का टैक्स काट लिया जाएगा. हालांकि, अगर आपके नौकरी के पांच साल पूरे होने पर और उसके बाद से रिटायरमेंट तक पैसा निकालने पर कोई कटौती नहीं की जाएगी. EPFO ने इस नियम को संयुक्त दावा प्रपत्र में दर्ज करा दिया है.

दरअसल, संविदा और आउटसोर्सिंग पर रखे गए कर्मचारी जल्दी-जल्दी अपने खाते बंद कर रहे हैं. अब अगर पांच साल से पहले ईपीएफ खाता बंद कर रहे हैं तो आपको पैन और फॉर्म 15-G लगाना होगा. ये दोनों दस्तावेज देने पर 10 फीसदी TDS कटेगा अगर कोई खाताधारक ऐसा नहीं करता तो उस की रकम पर 34.608 फीसदी टैक्स काट लिया जाएगा.

यही नहीं बाद में इस धनराशि को वापस पाने के लिए अंशधारकों को चक्कर लगाने पड़ेंगे, क्योंकि अंशधारक के नाम से टीडीएस जमा होगा. वहीं, पांच साल के बाद या रिटायरमेन्ट पर पूरा भुगतान लेने पर पैन और फॉर्म 15-G अनिवार्य नहीं होगा और इनके बिना ही पूरा भुगतान बिना किसी टैक्स कटौती के मिल जाएगा. ईपीएफओ ने संयुक्त दावा प्रपत्र में रिटायरमेन्ट से एक साल पहले और वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना में निवेश के लिए 90 फीसदी एडवांस का प्रावधान भी लागू कर दिया है.

ईपीएफओ सीबीटी के सदस्य राम किशोर त्रिपाठी का कहना है कि टीडीएस के प्रावधान में छूट दी जानी चाहिए. उनका कहना है कि हर साल हजारों कर्मचारियों के ईपीएफ खाते पांच साल की अवधि पूरी करने से पहले ही बंद हो जाते हैं. वे पैन कार्ड भी नहीं बनवा पाते. इसलिए इसमें छूट दी जानी चाहिए.

SBI का दिवाली तोहफा, ATM ट्रांजेक्शन, मिनिमम बैलेंस सहित किए ये बड़े बदलाव

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हुआ ये बड़ा बदलाव, जानिए कितने हुए तेल के रेट

First published: 1 October 2019, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी