Home » बिज़नेस » PNB SCAM : How long will the government compensate the fines of banks, so far has given 2.6 lakh crores
 

कब तक करेगी सरकार बैंकों के फ्रॉड की भरपाई, अब तक 2.6 लाख करोड़ दे चुकी है

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 February 2018, 14:44 IST

भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को किस तरह खामियाजा भुगतना पड़ रहा है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि बीते 11 साल में सरकार ने इन बैंकों में करीब 2.6 लाख करोड़ रु की रकम डाली है. यह रकम तीन वित्त मंत्रियों- प्रणब मुखर्जी, पी चिदंबरम और अरुण जेटली- के कार्यकाल में डाली गई है.

माना जा रहा है कि इन बैंकों के फंसे हुए कर्ज (एनपीए) का आंकड़ा मार्च 2018 तक 12 लाख करोड़ रु तक पहुंच सकता है. रिपोर्ट के अनुसार बैंकों की धन की आवश्यकताएं लगातार बढ़ रही हैं.

 

चालू और अगले वित्तीय वर्ष के दौरान केंद्र ने बैंकों को 1.45 लाख करोड़ रुपये देने का फैसला किया है. बैंकों को 2010-11 और 2016-17 के बीच 1.15 लाख करोड़ रुपये दिए गए थे. एसबीआई और अन्य राष्ट्रीयकृत बैंकों ने पिछले दो वित्तीय वर्षों के दौरान संयुक्त घाटे की सूचना दी क्योंकि वे खराब कर्ज या एनपीए का नन्नुकसान झेल रहे हैं.

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के आंकड़ों की मने तो सरकारी बैंकों ने पिछले पांच वित्तीय वर्षों में 8,670 ऋण धोखाधड़ी के मामलों में बैंकों को 61,000 करोड़ रुपये का चूना लगा है. 21 दिसंबर, 2017 तक की सूचना के अनुसार 1.79 अरब रुपये के बैंकिंग धोखाधड़ी के 25,600 से अधिक मामले सामने आए हैं.

First published: 19 February 2018, 14:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी