Home » बिज़नेस » PNB scam : India’s largest law firm under CBI scanner in connection with PNB scam: Reuters
 

PNB घोटाला : देश की सबसे बड़ी लॉ फर्म सिरिल अमरचंद मंगलदास CBI के शिकंजे में

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 September 2018, 15:07 IST

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) को देश की सबसे बड़ी लॉ फर्म सिरिल अमरचंद मंगलदास के मुंबई कार्यालय से पंजाब नेशनल बैंक घोटाले से संबंधित कुछ दस्तावेज प्राप्त हुए हैं. अब सीबीआई इस लॉ फर्म की जांच कर रही है. समाचार एजेंसी रायटर्स को बताया कि दस्तावेज़ फरवरी में सिरिल अमरचंद मंगलदास के कार्यालय में पाए गए थे.

घोटाले में मुख्य आरोपी अरबपति हीरा ज्वैलर नीरव मोदी ने 13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के बाद लॉ फर्म को कार्यालय में दस्तावेजों के कार्टन भेजे थे. सीबीआई अधिकारियों ने कहा कि लॉ फर्म के पास ये दस्तावेज हैं, वह कंपनियों का प्रतिनिधित्व नहीं कर रहा था.

 

रायटर्स के अनुसार "लॉ फर्म पीएनबी धोखाधड़ी के मामले में उनके वकील नहीं थे. यही कारण है कि वे वकील-ग्राहक विशेषाधिकार का हवाला देते नहीं हैं." उन्होंने कहा कि उनका मूल्यांकन सीबीआई अधिकारियों से नियमित ब्रीफिंग पर आधारित था.

रिपोर्ट के अनुसार मई में दायर किए गए मोदी और अन्य लोगों के खिलाफ जांच एजेंसी की पहली आरोपपत्र में उल्लेख किया गया है कि "मामले के लिए प्रासंगिक दस्तावेज / लेख" कानून फर्म के कार्यालय पाए गए थे. हालांकि, सिरिल अमरचंद मंगलदास पर न तो आरोप लगाया गया था और न ही इस मामले में गवाह के रूप में नामित किया गया था.

लेकिन एक अज्ञात सीबीआई अधिकारी ने कहा कि आरोपपत्र दायर करने से पहले पुलिस ने फर्म से कम से कम एक जूनियर वकील के बयान पर सवाल उठाया और पूछताछ की थी. रिपोर्ट के अनुसार कानून फर्म ने इस मामले पर टिप्पणी करने से इंकार कर दिया. कंपनी के प्रवक्ता मधुमिता पॉल ने रॉयटर्स से कहा, फर्म सख्ती से कानूनी सर्वोत्तम प्रथाओं का पालन करती है.

ये भी पढ़ें : स्विस बैंक में माल्या के 170 करोड़ के ट्रांसफर पर ब्रिटेन ने भारत को किया था अलर्ट

First published: 19 September 2018, 10:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी