Home » बिज़नेस » PNB scam: Nirav Modi firm senior executive Vipul Ambani gets bail
 

PNB घोटाला: नीरव मोदी की कंपनी के वरिष्ठ कार्यकारी विपुल अंबानी को मिली जमानत

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 August 2018, 11:23 IST

एक विशेष सीबीआई अदालत ने कथित पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) धोखाधड़ी मामले में गिरफ्तार होने के पांच महीने बाद फरार नीरव मोदी की कंपनी के वरिष्ठ अधिकारी विपुल अंबानी को शनिवार को जमानत दे दी.

विशेष न्यायाधीश जे सी जगदले ने 1 लाख रुपये के व्यक्तिगत बांड पर अंबानी को जमानत दी, साथ ही उन्हें सुनवाई के लिए अपनी उपस्थिति सुरक्षित करने के लिए दो महीने के भीतर जमानत राशि जमा करने का निर्देश दिया है.

फायरस्टार इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड के अध्यक्ष (वित्त) अंबानी को सीबीआई द्वारा दो बार बुलाए जाने के बाद 20 फरवरी को गिरफ्तार किया गया था. अपने जमानत आवेदन में अंबानी ने कहा था कि सीबीआई द्वारा उनके खिलाफ कोई प्रथम दृष्टया मामला नहीं बनाया गया है. उन्होंने दावा किया कि साझेदारी फर्म डायमंड आर यूएस, सोलर एक्सपोर्ट और स्टेलर डायमंड के आदेश पर पीएनबी द्वारा 2011 से मई 2017 के बीच एलओयू जारी किए गए थे.

 

अंबानी ने कहा कि उन्होंने मार्च 2014 में खुद को फायरस्टार से जोड़ा था और पीएनबी से एलओयू प्राप्त करने या सुरक्षित करने की प्रक्रिया में उनकी कोई भूमिका नहीं थी. उन्होंने कहा कि केवल आरोपों से परे सीबीआई ने मामले में उनकी भागीदारी का कोई दस्तावेजी प्रमाण प्रस्तुत नहीं किया था.

सीबीआई ने याचिका का विरोध करते हुए दावा किया कि फरार नीरव मोदी की एक कंपनी के वरिष्ठ अधिकारी के रूप में अंबानी षड्यंत्र का हिस्सा रहे हैं. अदालत ने अंबानी को इस आधार पर जमानत दी कि वह सबूत के साथ छेड़छाड़ नहीं करेंगे और अदालत की अनुमति के बिना देश से बाहर नहीं जायेंगे. इसके अलावा उन्हें आगे के आदेश तक हर मंगलवार को अधिकारियों की जांच करने से पहले उपस्थित होने का निर्देश दिया गया है.

ये भी पढ़ें : Apple के को-फाउंडर स्टीव जॉब्स की बेटी ने किये पिता के साथ रिश्तों पर चौकाने वाले खुलासे

First published: 5 August 2018, 11:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी