Home » बिज़नेस » PNB scam Nirvav Modi's companies were mostly given in 2017-18
 

PNB घोटाला : नीरव मोदी की कंपनियों को ज्यादातर LoUs 2017-18 में दिए गए

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 February 2018, 15:49 IST

केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन ने शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि पीएनबी घोटाला उनके नहीं बल्कि कांग्रेस के दौरा में हुआ था. उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश को गुमराह कर रही है. निर्मला सीतारमण ने कहा की गीतांजलि जेम्स को 2013 में एनएसई पर व्यवसाय करने से 6 महीने के लिए निलंबित कर दिया गया था. उन्होंने कहा 13 सितंबर 2013 को राहुल गांधी ने इस आभूषण समूह के एक कार्यक्रम में भाग लिया था.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार सीबीआई ने कहा है कि 11400 करोड़ रुपये के घोटाले में अधिकांश एलओयू 2017-18 में या तो जारी किए गए या बैंक में नवीनीकृत किए गए थे. सीबीआई ने गुरुवार को नीरव मोदी के मामा मेहुल चोकसी के खिलाफ मामला दर्ज किया. 31 जनवरी को एजेंसी द्वारा पंजीकृत पहली प्राथमिकी में कहा गया है आठ एलओयू 2017 में जारी किए गए थे.

 

सीबीआई ने अब पीएनबी द्वारा प्रदान की गई नई जानकारी से बुधवार को अनुमान लगाया गया कि पहली प्राथमिकी में कुल नुकसान 6,498 करोड़ रुपये के नुकसान की बात सामने आयी है. पीएनबी के कुल नुकसान का आंकड़ा 11,400 करोड़ रुपये के करीब है.

सीबीआई के सूत्रों ने कहा कि चूंकि आरोपी मोदी और उनके रिश्तेदार उन एलओयू का इस्तेमाल कर रहे थे इसलिए कई पुराने एलओयू भी 2017 में नवीनीकृत किए गए हैं. सीबीआई ने शुक्रवार को मामले के सिलसिले में चार पीएनबी अधिकारियों पर सवाल उठाया.

First published: 17 February 2018, 15:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी