Home » बिज़नेस » PNB scam: RBI keeps reminding PNB to move on trust
 

पीएनबी में महाघोटाला: RBI ने PNB को याद दिलाया भरोसे पर चलते हैं देश में बैंक

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 February 2018, 11:12 IST

11 हजार करोड़ से ज्यादा के घोटाले में फंसे पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) को भारतीय रिजर्व बैंक ने सलाह दी है कि वह गारंटी पत्र (एलओयू) के जरिये दूसरे बैंकों से लिए गए पैसों की भरपाई करे. इसके साथ ही आरबीआई ने पीएनबी से कहा है कि वह 2011 से लेकर अब नीरव मोदी मामले के पूरे व्यौरे को पेश करे.

आरबीआई ने बैंकों से को यह भी चेतावनी ने है कि एलओयू जारी करते समय पूरी जांच-पड़ताल की जाए. गौरतलब है कि पीएनबी की शाखा में अधिकारियों की मिलीभगत से नीरव मोदी समूह की फर्मों को एलओयू जारी किया था. इन फर्मों का इस शाखा में केवल चालू खाता था और उसे किसी तरह की फंड या गैर-फंड आधारित लिमिट नहीं दी गई थी.

 आरबीआई ने पीएनबी से यह भी कहा है कि इस रकम का भुगतान नहीं करने पर फाइनैंशल मार्केट में खलबली मच जाएगी. रिजर्व बक ने यह भी कहा है कि बैंकिंग इंडस्ट्री में सबसे बड़ी चीज भरोसा होती है और अगर भुगतान नहीं हुआ तो यह टूट जायेगा.

आईआईएम-बैंगलोर के एक अध्ययन की माने तो 2012 और 2016 के बीच बैंकिंग धोखाधड़ी के कारण सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (पीएसबी) को कुल 227.43 अरब का नुकसान उठाना पड़ता है. इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसादने हाल ही में भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के डेटा का हवाला देते हुए संसद में बताया, 21 दिसंबर, 2017 तक 1.79 अरब रुपये के बैंकिंग धोखाधड़ी के 25,600 से अधिक मामले सामने आए हैं.

First published: 16 February 2018, 11:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी