Home » बिज़नेस » Post Office Recurring Deposit Gives Maximum Return Than Bank RD
 

रोजाना 100 रुपये की बचत कर आप भी बन सकते हैं लखपति, जानें क्या है सरकार की स्कीम

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2019, 13:09 IST

अपने भविष्य के लिए बचत करना हर इंसान के लिए जरूरी है. इसीलिए लोग निवेश पर भरोसा करते हैं. क्योंकि उन्हें छोटे निवेश या मंथली सेविंग पर ज्यादा रिटर्न मिलने की उम्मीदें कम होती है. इसी को देखते हुए पोस्ट ऑफिस ने एक नई स्कीम शुरु की है. जिसमें आप मात्र 100 रुपये रोजाना बचाकर लखपति बन सकते हैं.

दरअसल. पोस्ट ऑफिस ने मंथली सेविंग पर अच्छे रिटर्न के लिए रेकरिंग डिपॉजिट (Recurring Deposit) की सुविधा दी है. इस स्कीम का लाभ सैलरी क्लास और महिलाएं उठा सकती है. इसपर रिटर्न अच्छा मिलता है.

जाने पूरी स्कीम के बारे में

पोस्ट ऑफिस के रेकरिंग डिपॉजिट यानि RD में 7.3 फीसदी का सालाना ब्याज मिल रहा है. वहीं, ज्यादातर बैंक जिनमें एसबीआई, देना बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, केनरा बैंक, इलाहाबाद बैंक और आंध्रा बैंक आदि शामिल है वो एक साल से 5 साल तक की आरडी पर 6.5 फीसदी से 7 फीसदी तक ब्याज दे रहे हैं. यानि बैंकों से ज्यादा फायदा पोस्ट ऑफिस रेकरिंग डिपॉजिट में है. वहीं बैंक के बचत खाते में 4 से 4.5 फीसदी तक ही ब्याज मिलता है.

कैसे खोलें खाता

पोस्ट ऑफिस की आरडी का अकाउंट खुलवाने के लिए आपके मात्र 10 रुपये खर्च करने होंगे. इसमें हर महीने कम से कम 10 रुपये और ज्यादा से ज्यादा कितनी भी रकम जमा की जा सकती है. इस स्कीम लाभ कम सैलरी वाले, रोजाना काम करने वाले, मजदूर या घरेलू महिलाएं उठा सकती है. जिनकी आमदन कम हो.

कैसे मिलेगा फायदा

मान लीजिए कि आप अपने खर्च से कुछ न कुछ बचाकर रोजाना इस स्कीम में 100 रुपये निवेश करते हैं. इस हिसाब से आपका मंथली निवेश आरडी में 3000 रुपये हो जाएगा. यानि आप पांच साल में करीब 1.80 लाख रुपए निवेश करेंगे. आपका 5 साल बाद करीब 2.20 लाख रुपये का फंड तैयार हो जाएगा. यानि 5 साल में कुल जमा पर आपको करीब 37,511 रुपये का ब्याज मिलेगा.

कैसे खुलवाएं पोस्ट ऑफिस में खाता

आप आरडी अकाउंट किसी भी पास के पोस्ट ऑफिस में 10 रुपये के शुरूआती निवेश के साथ खोल सकते हैं. आप एक या एक से ज्यादा अकाउंट भी खोल सकते हैं.

ये भी पढ़ें- पेट्रोल-डीजल की कीमतों में नहीं हुआ कोई बदलाव, जानिए क्या है आज तेल का रेट

First published: 10 February 2019, 13:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी