Home » बिज़नेस » Railway introduces flexi fares scheme, Rajdhani, Duranto and Shatabdi fares up
 

राजधानी, शताब्दी, दुरंतो का किराया डेढ़ गुना तक महंगा, 9 सितंबर से फ्लेक्सी फेयर स्कीम

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:47 IST

रेल यात्रियों पर महंगे किराए की मार पड़ी है. राजधानी-शताब्दी और दुरंतो ट्रेनों में में रेलवे ने फ्लेक्सी फेयर स्कीम लागू करने का एलान किया है.

अब एयर टिकट की तरह नए सिस्टम के तहत आपको इन ट्रेनों के टिकट मिलेंगे. 9 सितंबर से लागू हो रही इस स्कीम में प्रीमियम ट्रेनों का किराया 50 फीसदी तक बढ़ जाएगा. दीपावली और छठ पूजा से पहले घर जाने की योजना बना रहे यात्रियों को रेलवे ने सर्ज प्राइसिंग का नया झटका दिया है. 

ट्रेन में अगले चार महीने तक टिकट बुक कर सकते हैं और 9 सितंबर से पहले अगर टिकट बुक कर लिया तो बाद में एक्सट्रा चार्ज नहीं देना पड़ेगा. इसका मतलब महंगे हुए टिकट का चार्ज नहीं देना पड़ेगा.

10-10 फीसदी के हिसाब से बढ़ेगा किराया

ये किराए 10-10 फीसदी की बढ़ोतरी के हिसाब से बढ़ेंगे यानी इस सिस्टम के आने पर पहली 10 फीसदी सीटों के अलावा ट्रेन की बाकी सीटों की बुकिंग के लिए अब यात्रियों को 100 फीसदी तक ज्यादा किराया देना पड़ सकता है.

दूसरी 10 फीसदी सीटें भरने के बाद तीसरी 10 फीसदी सीटों पर फिर से 10 फीसदी किराया बढ़ जाएगा. इस तरह से 50 फीसदी सीटें भरने के बाद आखिरी 50 फीसदी सीटों के लिए यात्रियों को 50 फीसदी ज्यादा किराया देना होगा. इस तरह इस क्लास के पैसेंजर्स को आखिरी 10 फीसदी सीटों के लिए तकरीबन दोगुना किराया देना पड़ सकता है.

केबीके इंफोग्राफिक्स

जानिए कैसे बढ़ेगा आपका किराया

रेलवे में अग्रिम आरक्षण 4 महीने पहले का होता है. आपको राजधानी, दुरंतो या शताब्दी की कुल सीट जो बुकिंग के लिए उपलब्ध हो, उसके पहले 10 फीसदी सीट के लिए बेस फेयर देना होगा. अगली 10 फीसदी सीट बुक कराने पर टिकट के बेस फेयर पर 1.1 फीसदी लगेगा.

20 फीसदी टिकट बुक होने के बाद अगले 10 फीसदी टिकट पर 1.2 फीसदी अतिरिक्त चार्ज लगेगा. 30 फीसदी टिकट बुक होने के बाद 1.3 फीसदी एक्स्ट्रा चार्ज देना होगा. इसके आगे की सीट पर बेस फेयर पर 1.4 फीसदी ज्यादा खर्च करना पड़ेगा.

महंगे किराए का गणित

दिल्ली और मुम्बई के बीच वर्तमान में थर्ड एसी राजधानी का बेस फेयर चार्ज है 1628 रुपये. उसके ऊपर से हम सुपरफास्ट चार्ज, कैटरिंग चार्ज, रिजर्वेशन चार्ज देकर कुल किराया थर्ड एसी का देते हैं 2085 रुपये.

अभी जो फ्लैक्सी फेयर बढ़ाये गए हैं, वह बेस फेयर पर लगेगा. यानि पहली 10 फीसदी सीट का बेस फेयर 1628 रुपये रहेगा. अगली दस फीसदी 1791 रुपये पर उसके बाद की 10 फीसदी सीटों का किराया 1954 रुपये होगा.

उसके बाद की 10 फीसदी सीट 2116 रुपये पर और आखिरी की सीटें 2279 रुपये पर बिकेंगी. हालांकि इसके आगे किराया नहीं बढेगा.

पहले बुक कराने वालों को राहत

बढ़े हुए किराये के बीच एक अच्छी खबर यह है कि अब तत्काल पर 30 फीसदी एक्स्ट्रा चार्ज लगता था, वह नहीं लगेगा. जिस कीमत पर आखिरी टिकट बिकेगी उसी कीमत पर तत्काल भी बिकेगा.

जिन लोगों ने यात्रा के लिए 9 सितंबर से पहले टिकट बुक करा लिए हैं, उनको यात्रा के दौरान कोई अतिरिक्त पैसा नहीं देना होगा.

First published: 8 September 2016, 11:31 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी