Home » बिज़नेस » 'Rani Ki Baawi' is printed on the new note of Rupees 100, know the Gujarat connection
 

जानिए आखिर क्यों आरबीआई ने 'रानी की बावड़ी' को 100 रुपये के नए नोट के लिए चुना

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 July 2018, 18:38 IST

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया जल्द ही 100 रुपये का नया नोट जल्द जारी करेगा. आरबीआई ने नए नोट का डिजाइन जारी कर दिया है. जल्द ही बाजार में लैवेंडर रंग (गहरा बैंगनी) के 100 रुपये के नये नोट नजर आएंगे. नोट के पिछले हिस्से में यूनेस्को की सूची में शामिल गुजरात के पाटन स्थित रानी की बावड़ी या रानी की वाव को दर्शाया गया है. आम लोगों के बीच कम चर्चित इस ऐतिहासिक धरोहर को यूनेस्को ने बावड़ियों की रानी की उपाधि दी है. देश की सभ्यता को दर्शाने के लिए इसका इस्तेमाल नोट पर किया गया है.

ये भी पढ़ें-इस साल 5 लाख युवा बने 'बेरोजगार इंजीनियर', अब करेंगे चपरासी की नौकरी

रानी की वाव

भारतीय सभ्यता और इतिहास का उत्कृष्ट उदाहरण रानी की वाव का निर्माण 11वीं सदी में सोलंकी साम्राज्य के समय किया गया था. यूनेस्को ने रानी की वाव को वर्ल्ड हेरिटेज साइट में शामिल किया हुआ  है. सरस्वती नदी के किनारे स्थित इस बाबड़ी के नीचे एक छोटा द्वार है. इस बाबड़ी के भीतर लगभग 30 किलोमीटर की एक सुरंग भी है, लेकिन वर्तमान में इस सुरंग को मिटटी और पत्‍थरों से बंद कर दिया गया है.

रानी की वाव में विष्णु के दशावतार

रानी की बावड़ी में बहुत सी कलाकृतियां और मूर्तियों की नक्काशी की गई है जो कि भगवान विष्णु से संबंधित है. यहां भगवान विष्णु के दशावतार रूप में मूर्तियों का निर्माण किया गया है. हिन्दू पौराणिक मान्यता के अनुसार विष्णु के दस अवतार जिनमें कल्कि, नरसिम्हा, वामन, राम, कृष्णा, वाराही और दूसरे मुख्य अवतार की कलाकृति उकेरी गई है. रानी की वाव मारू-गुर्जरा आर्किटेक्चर स्टाइल में एक कॉम्प्लेक्स में बनाई गई थी. इसके भीतर एक मंदिर और सीढियों की सात कतारें भी हैं जिसमें 500 से भी ज्यादा कलाकृतियां हैं.

खबरों की मानें तो नया नोट अगले महीने तक बाजार में आम चलन में आ सकता है. नए नोट की प्रिंटिंग शुरू हो चुकी है. इस नोट का गुजरात कनेक्शन भी काफी सुर्ख़ियों में है. रानी की बावड़ी सरस्वती नदी के किनारे पर स्थित है. आरबीआई ने अब तक 10, 50, 200, 500 और 2 हजार रुपये के नए नोट जारी किए हैं, अब 100 रुपये के नए नोट में छपी रानी की वाव इस नोट को खास बनाएगा.

100 रुपये का मेड इन इंडिया नोट

100 रुपये का नए रंग का नोट वह पूरी तरह भारतीय होगा. इसका न सिर्फ कागज व स्याही बल्कि तकनीक की भारतीय होगी. मध्य प्रदेश के देवास स्थित बैंक रिज़र्व बैंक की नोट प्रेस में नए नोट की छपाई शुरू हो गई है. ख़बरों के अनुसार अभी करीब 2000 करोड़ रुपये के वैल्यू के 100 रुपये वाले नए नोट छापे जाएंगे. नोट के सिक्योरिटी फीचर भी पूरी तरह भारत में ही तैयार किए गए हैं.

RBI ने स्पष्ट तौर पर खा है कि नये नोट के जारी होने के बाद भी मौजूदा 100 रुपये के नोट वैध रहेंगे. रिज़र्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल ने कहा है कि RBI महात्मा गांधी के नए सीरीज वाले 100 रुपये के नोट जल्द जारी होने वाला है. इस नोट पर भी पर बैंक के गवर्नर डॉ उर्जित आर पटेल के हस्ताक्षर  होंगे.

First published: 19 July 2018, 18:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी