Home » बिज़नेस » RBI board meet today, the first with Shaktikanta Das at the helm
 

शक्तिकांत दास के गवर्नर बनने के बाद आज RBI बोर्ड की पहली बैठक, इन मुद्दों पर होगी चर्चा

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 December 2018, 10:38 IST

शक्तिकांत दास के आरबीआई गवर्नर बनने के बाद आज पहली बार भारतीय रिजर्व बैंक (RBI)बोर्ड की बैठक होगी. 18 सदस्यीय बोर्ड में मौद्रिक नीति निर्माता, वित्त मंत्रालय के प्रतिनिधिय और उद्योगपति शामिल हैं. इस बैठक में देश के सबसे कमजोर राज्य संचालित बैंकों पर कर्ज देने के प्रतिबंधों को आसान बनाने से संबंधित मुद्दों पर चर्चा होने की उम्मीद है. आरबीआई का बोर्ड वित्तीय प्रणाली में लिक्विडिटी पर भी ध्यान केंद्रित कर सकता है. 19 नवंबर की बैठक में रिजर्व को लेकर एक समिति स्थापित करने समाती बनी थी.

गुरुवार को नए आरबीआई प्रमुख ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के प्रमुखों से मुलाकात की जिन्होंने तत्काल सुधारात्मक कार्रवाई (पीसीए) ढांचे में कुछ छूट मांगी और आरबीआई ने 12 फरवरी के एक सर्कुलर में एक दिवसीय डिफ़ॉल्ट मानदंडों की मांग की थी.

 

दास ने अपने चार डिप्टी गवर्नर्स के साथ बैंकों विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की, जिसमें लिक्विडिटी की स्थिति भी शामिल है. 21 राज्य-स्वामित्व वाले बैंकों में से 11, पीसीए ढांचे के तहत हैं, जो कमजोर उधारदाताओं पर उधार और अन्य प्रतिबंध लगाते हैं. ये उधारकर्ता प्रणाली में क्रेडिट और जमा के पांचवें हिस्से को सामूहिक रूप से नियंत्रित करते हैं.

अगले साल सितंबर में अपना टर्म पूरा करने जा रहे उर्जित पटेल ने 10 महीने पहले उर्जित पटेल ने अचानक इस्तीफा दे दिया था. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार को माना कि आरबीआई के साथ दो-तीन मुद्दों पर विवाद था.मुंबई में एक कार्यक्रम में बोलते हुए जेटली ने कहा कि आरबीआई के साथ मतभेदों में अर्थव्यवस्था और लिक्विडिटी समर्थन में क्रेडिट प्रवाह शामिल है, और कहा कि सरकार ने अपनी चिंताओं को व्यक्त करने के लिए चर्चा शुरू की है.

ये भी पढ़ें : मोदी सरकार को शक्तिकांत दास वो तोहफा देंगे जो राजन और पटेल नहीं दे पाए ?

First published: 14 December 2018, 10:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी