Home » बिज़नेस » Rbi declared Kyc deadline for e wallets can't be extend but balance wont be lost after feb 28
 

नहीं बढ़ेगी E-Wallet के केवाईसी कराने की आखिरी तारीख, RBI ने किया एलान

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 February 2018, 16:17 IST

अगर आप भी मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल करते हैं तो ये खबर यकीनन आपके लिए ही है. दरअसल RBI ने मोबाइल वॉलेट की केवाईसी कराने की डेडलाइन बढ़ाने से इंकार कर दिया है. RBI की डेडलाइन के मुताबिक मोबाइल वॉलेट की केवाईसी कराने की आखिरी तारीख 28 फरवरी 2018 है.

ये भी  पढ़ें- देश के इन राज्यों में महिलाओं के नाम है सबसे ज्यादा जमीन

RBI ने यूजर्स को कुछ राहत भी दी है. इसके अंतर्गत मोबाइल वॉलेट में मौजूद यूजर्स का पैसा नहीं डूबेगा. पहले ऐसी खबरें आ रही थीं कि 28 फरवरी तक मोबाइल वॉलेट की केवाईसी ना कराने पर पैसा डूब जाएगा. लेकिन अब केवाईसी ना कराने वाले यूजर्स का पैसा सुरक्षित रहेगा.

बता दें कि लोग पेटीएम, एयरटेल मनी, फ्रीचार्ज, मोबिक्विक, ओलामनी, जियो मनी जैसे कई मोबाइल वॉलेट का यूज करते हैं. और इसका इस्तेमाल केशलैस के रूप में करते हैं

RBI ने यूजर्स को दी ये राहत

28 फरवरी तक केवाईसी ना कराने पर मोबाइल वॉलेट का पैसा नहीं डूबेगा. इसलिए जिन यूजर्स के वॉलेट में पैसा है, उन्हें परेशान होने की जरूरत नहीं हैं. यूजर इस पैसे का इस्तेमाल भी कर सकेंगे. यूजर्स अपने पैसे को बैंक खाते में भी ट्रांसफर कर सकेंगे लेकिन अगर आप किसी दूसरे व्यक्ति के ई-वॉलेट में रुपए ट्रांसफर करना चाहते हैं तो आपको केवाईसी डिटेल्स भरनी होंगी.

वहीं अभी 55 नॉन बैंकिंग पीपीआई (प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रुमेंट्स) ऑपरेशनल हैं. इन्हें पहले 31 दिसंबर 2017 तक का टाइम केवाईसी के लिए दिया गया था. बाद में इस तारीख को बढ़ाकर 28 फरवरी कर दिया गया. बता दें कि जो कस्टमर फुल केवाईसी करवाते हैं उन्हें अपने फोटोग्राफ के साथ ही आइडेंटिटी कार्ड, एड्रेस डिटेल्स जमा करना होंगी. वॉलेट कंपनियां अभी तक 50 परसेंट कस्टमर्स का केवाईसी भी पूरा नहीं कर सकी हैं. RBI सिक्युरिटी के साथ ही ट्रांजेक्शन को पारदर्शी बनाना चाहता है और कस्टमर्स को प्रोटेक्ट करना चाहता है. इसी कारण सभी केवाईसी को अनिवार्य किया जा रहा है.

First published: 27 February 2018, 16:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी