Home » बिज़नेस » RBI relief package amid Corona virus crisis, reverse repo rate reduced, 50 thousand crores to NBFC
 

कोरोना वायरस संकट के बीच RBI का राहत पैकेज, रिवर्स रेपो रेट घटाया, NBFC को 50 हजार करोड़

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 April 2020, 11:40 IST

coronavirus : लॉकडाउन के बीच आरबीआई ने बड़े मदद पैकेज का ऐलान किया है. भारतीय रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को रिवर्स रेपो रेट में 25 आधार अंकों की कटौती कर इसे 3.75 प्रतिशत कर दिया है. आरबीआई ने रेपो रेट 4.4 प्रतिशत में कोई बदलाव नहीं किया. केंद्रीय बैंक ने आज गैर-बैंकिंग वित्त कंपनियों के लिए लिक्विडिटी में सुधार के लिए कई कदम उठाए है.

लॉकडाउन के बाद उभरे संकट से निपटने के लिए RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास ने NBFC की मदद के लिए TLTRO 2.0 की दूसरी किस्त शुरू करने की घोषणा की. केंद्रीय बैंक ने मार्केट में लिक्विडिटी बढ़ाने के लिए एक लाख करोड़ रुपये की मदद की घोषणा की.


 

कोरोना वायरस संक्रमण के बाद RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास दूसरी बार मीडिया को संबोधित किया. 27 मार्च को मॉनेटरी पॉलिसी रिव्यू के दौरान उन्होंने रेपो रेट में 0.75 फीसदी की कटौती की थी. भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने 50,000 करोड़ के टीएलटीआरओ 2.0 की घोषणा की कि ताकि गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) और माइक्रोफाइनेंस संस्थानों (एमएफआई) जैसे वित्तीय बाजारों लिक्विडिटी मिल सके.

गवर्नर ने कहा कि आरबीआई इस राशि को 50,000 करोड़ से आगे बढ़ाएगा.आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कोरोना वायरस महामारी के दौरान भारत के हालात दूसरों से बेहतर हैं. वैश्विक मंदी के के बीच भारत की विकास दर अब भी 1.9 प्रतिशत रहेगी.

COVID-19 के खिलाफ लड़ने के लिए अमेरिका ने भारत को दी 50 लाख डॉलर से ज्यादा की मदद

First published: 17 April 2020, 11:37 IST
 
अगली कहानी