Home » बिज़नेस » RBI Swaminathan Gurumurthy: Meet the men who rule over Reserve Bank of India
 

मिलिए उन लोगों से जो चलाते हैं भारतीय रिजर्व बैंक, बोर्ड में शामिल हैं ये 21 लोग

सुनील रावत | Updated on: 20 August 2018, 14:57 IST

इस महीने की शुरुआत में भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के केंद्रीय बोर्ड में राजनीतिक कार्यकर्ता स्वामीनाथन गुरुमूर्ति को नियुक्त करने के बाद केंद्र सरकार के इस फैसले के कारण संस्थान की स्वायत्तता पर सवाल उठाए गए. एक रिपोर्ट के अनुसार 1999-2000 से भारतीय रिजर्व बैंक की वार्षिक रिपोर्ट आंकड़ों से पता चलता है कि पिछले 18 वर्षों में आरबीआई केंद्रीय बोर्ड में जगह पाने वाले गुरुमूर्ति तीसरे राजनीतिक कार्यकर्ता हैं.

इससे पहले 1999-2000 में भारतीय रिजर्व बैंक के दक्षिणी क्षेत्रीय बोर्ड के सदस्य तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) के इरासु अय्यापु रेड्डी को नियुक्त किया गया था. जबकि कांग्रेस के राजीव गौड़ा को 2011 में दक्षिणी स्थानीय बोर्ड में भी नियुक्त किया गया था. गौड़ा भारतीय प्रबंधन संस्थान, बैंगलोर में अर्थशास्त्र के प्रोफेसर थे.

 

वह 2000 के दशक के मध्य से कांग्रेस से जुड़े. 1999-2000 से पहले की वार्षिक रिपोर्ट आरबीआई वेबसाइट पर उपलब्ध नहीं है. यह देखते हुए कि केंद्रीय बोर्ड आरबीआई का उच्चतम निर्णय लेने वाला निकाय है, जो केंद्रीय बैंक द्वारा किए गए सभी महत्वपूर्ण निर्णयों को मंजूरी देता है. केंद्रीय बोर्ड के सदस्य केंद्रीय बैंक की व्यापक दिशा के लिए जिम्मेदार होते हैं. यह मौद्रिक नीति को भी तय करते हैं.

केंद्रीय बोर्ड ने ही नवंबर 2016 में नोटबंदी अभ्यास में अपनी सहमति दी थी. आरबीआई अधिनियम के तहत केंद्रीय बोर्ड में 21 सदस्यों को शामिल किया जा सकता है. जिसमे गवर्नर और चार डिप्टी गवर्नर शामिल होते हैं. इसमें केंद्र सरकार द्वारा नामित 10 निदेशक होते हैं, जो आमतौर पर अपने संबंधित क्षेत्रों में विशेषज्ञ होते हैं.

हालांकि बीते वक़्त में स्थानीय बोर्डों में राजनीतिक नियुक्तियां होती रही हैं. गुरुमूर्ति की नियुक्ति प्रस्थान का प्रतीक है क्योंकि उन्हें सीधे धारा 8 (1) सी के तहत केंद्र सरकार के नामांकित व्यक्ति के रूप में नामांकित किया गया है. कई सालों बाद अपने आप में यह पहला मामला. गुरुमूर्ति एक चार्टर्ड अकाउंटेंट हैं लेकिन उनकी विचारधारा सत्तारूढ़ पार्टी के साथ मानी जाती है. वह आरएसएस के संगठन स्वदेशी जागरण मंच के संस्थापक सदस्यों में से एक रहे है.

ये भी पढ़ें : टरपोल ने किया कन्फर्म यूनाइटेड किंगडम में ही है नीरव मोदी : सीबीआई

First published: 20 August 2018, 14:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी