Home » बिज़नेस » RBI warn banks about fraud through upi in online manner
 

RBI ने बैंकों को किया अलर्ट जारी, ग्राहकों के अकाउंट में जमा हजारों करोड़ रुपये पर चोरी का खतरा

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 February 2019, 14:13 IST

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने बैंकों को एक नए तरह की बैंक धोखाधड़ी के बारे में चेतावनी दी है, जिसमें यूपीआई (UPI) के माध्यम से ग्राहकों के बैंक अकाउंट से पैसे चुराए जा सकते हैं. जालसाज बेहद आसान तरीके से इस ऑनलाइन फर्जीवाड़े को अंजाम दे सकते हैं. कोई भी एसी ऐप को अपने मोबाइल मे न डाले जिसके सत्यता की जानकारी आपको नहीं हो. लोगों को इसके प्रति जागरूक रहने की जरूरत है.

RBI ने एडवाइजरी जारी कर कहा है कि ''जैसे ही जालसाज इस ऐप कोड को अपने मोबाइल फोन में डालता है, वह पीड़ित से कुछ परमिशन मांगता है, जैसा कि अन्य ऐप को डाउनलोड करने के बाद होता है.'' पैसे से चुराने के इस इस तरीके में जालसाज पीड़ित को एक ऐप AnyDesk डाउनलोड करने के लिए भेजता है. इसके बाद हैकर्स पीड़ित के मोबाइल पर आए नौ डिजिट कोड के जरिए उसके मोबाइल फोन को अपने कंट्रोल में ले लेता है.

इससे हैकर्स की यूजर्स के मोबाइल फोन तक पहुंच बन जाती है और वह गलत तरीके से ट्रांजैक्शंस को अंजाम देता है. आरबीआई के मुताबिक, फर्जीवाड़े के इस तरीके का इस्तेमाल यूपीआई या वॉलेट जैसे पेमेंट से संबंधित किसी भी मोबाइल बैंकिंग ऐप के जरिये ट्रांजैक्शंस के लिए किया जा सकता है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रिज़र्व बैंक ने सभी बैंकों को अडवाइजरी भेजी है, क्योंकि इससे खुदरा ग्राहकों के खातों में जमा हजारों करोड़ रुपये की रकम को खतरा पैदा हो गया है.

First published: 17 February 2019, 14:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी