Home » बिज़नेस » Reserve Bank of India refused to share copies of the report of pnb scam
 

पीएनबी घोटाला: भारतीय रिजर्व बैंक ने रिपोर्ट की प्रतियों को साझा करने से किया इनकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 May 2018, 17:15 IST

देश के बैंको में हुए घोटाले में पीएनबी बैंक घोटाला हर किसी को याद है, अब इसमें एक नया मोड़ आया है. यह घोटाला इसी साल हुआ है, इस घोटाले में बैंक को 13,000 करोड़ का नुकसान हुआ था. खबरों के अनुसार जब इस मामले की जानकारी के लिए एक रिपोर्टर ने इस मामले की रिपोर्ट की प्रतियों और आपत्तियों की रिपोर्ट मांगी तो भारतीय रिजर्व बैंक ने रिपोर्ट की प्रतियों ने साझा करने से इनकार कर दिया.

बैंक ने इस मामले में कहा कि आरटीआई कानून-2005 की धारा 8 (1) (ए), (डी), (जे) और (एच) के तहत बैंकों की रिपोर्ट और अन्य सूचनाओं का खुलासा नहीं करने की छूट है. इसलिए इस मामले की रिपोर्ट की प्रतियों और आपत्तियों की रिपोर्ट को नहीं दिया जा सकता है. रिजर्व बैंक ने इस बारे में आरटीआई आवेदन के जवाब में कहा, "उसके पास इस तरह की कोई विशेष सूचना नहीं है कि पीएनबी में 13,000 करोड़ रुपए का घोटाला कैसे सामने आया. केंद्रीय बैंक ने इस आवेदन को पीएनबी के पास भेज दिया है."

बता दें कि यह घोटाला पंजाब नेशनल बैकं के दो अधिकारियों की मिलीभगत से हुआ. नीरव मोदी और उनके सहयोगियो ने साल 2017 में विदेश से सामान मंगाने के नाम पर बैंकिंग सिस्टम में जानकारी डाले बिना ही आठ एलओयू जारी करवा दिए, जिससे बैंक को 13,000 करोड़ रुपये से ज्यादा का नुकसान हुआ.

ये भी पढ़ें: 

First published: 13 May 2018, 17:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी