Home » बिज़नेस » Retail Inflation Rate up & Industrial Production down
 

महंगाई दर बढ़ी और औद्योगिक उत्पादन घटा

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 May 2016, 18:52 IST

अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर सरकार की उम्मीदें सही साबित नहीं हो रही हैं. जहां महंगाई दर बढ़ने से आम आदमी के माथे पर पसीना आ गया है. वहीं औद्योगिक उत्पादन में कमी ने भी सरकार को धक्का दिया है. 

पीटीआई के मुताबिक मार्च में औद्योगिक उत्पाद काफी कम हो गया. सरकार को यह उम्मीद भी नहीं थी कि इसमें इतनी गिरावट आएगी. मार्च में औद्योगिक उत्पादन की विकास दर में कमी होकर यह 0.1 फीसदी पर पहुंच गई. जबकि इससे पिछले साल यह दर 2.5 फीसदी थी. औद्योगिक उत्पादन में गिरावट की यह दर काफी तेज है.

पढ़ेंः सूखे से अर्थव्यवस्था को 6 लाख 50 हजार करोड़ रुपये के नुकसान का अनुमान

सालाना औद्योगिक उत्पाद विकास दर देखें तो 2014-15 की 2.8 फीसदी की तुलना में 2015-16 में यह 2.4 फीसदी पर पहुंच गई.

बीते तीन माह में औद्योगिक उत्पादन में बढ़त हो रही थी लेकिन मार्च में सरकार की उम्मीदों के विपरीत इसमें बहुत ज्यादा गिरावट आई है. बताया जा रहा है कि निर्माण क्षेत्र के आंकड़ों में आई भारी गिरावट इसकी प्रमुख वजह रही. मार्च में निर्माण क्षेत्र की विकास दर नकारात्मक होने से इसपर असर पड़ा. फरवरी में यह दर 0.7 फीसदी थी जो मार्च में -1.2 फीसदी पहुंच गई.

जेपी ग्रुप का संकट: संस्थापक ने कहा पैसा नहीं है, प्रोजेक्ट पर लटकी तलवार

जबकि खुदरा महंगाई दर में भी बढ़ोतरी हुई. मार्च में खुदरा महंगाई दर 4.83 फीसदी दर्ज की गई थी. जो अप्रैल में बढ़कर 5.39 फीसदी पर पहुंच गई.

First published: 21 May 2016, 18:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी