Home » बिज़नेस » Revenue from e-commerce in India to touch $52 billion by 2022
 

साल 2022 तक भारत में ई-कॉमर्स का कारोबार जायेगा 52 अरब डॉलर के पार

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 June 2018, 11:45 IST

भारत में ई-कॉमर्स का कारोबार लगातार बढ़ रहा है. एक रिपोर्ट की माने तो जहां 2017 में भारत में ई-कॉमर्स का राजस्व 25 अरब अमेरिकी डॉलर था, उसके 2022 तक प्रति वर्ष 20.2 फीसदी बढ़ने की संभावना है. एक रिपोर्ट के मुताबिक 2017 में 37 प्रतिशत आबादी में इंटरनेट उपयोगकर्ता शामिल थे, जिनमें से 14 प्रतिशत नियमित रूप से ऑनलाइन खरीदारी करते थे.

2021 तक इंटरनेट उपभोक्ताओं की इस जनसंख्या का हिस्सा 45 प्रतिशत तक बढ़ने की उम्मीद है. इसमें कहा गया है कि ऑनलाइन खरीदारों की संख्या 90 प्रतिशत तक बढ़ने की उम्मीद है. अधिकांश खरीद (56 प्रतिशत) डेस्कटॉप के माध्यम से की जा रही है जबकि स्मार्टफोन से 30 फीसदी खरीदारी की रही है.

हालांकि मोबाइल से खरीदारी 2020 तक आबादी के 54 प्रतिशत तक पहुंचने की उम्मीद है, एम-कॉमर्स की भारत में उच्च क्षमता है और ई-कॉमर्स का राजस्व में 70 प्रतिशत योगदान होगा. रिपोर्ट के अनुसार लगभग 57 प्रतिशत भारतीय डिलीवरी पर भुगतान करना पसंद करते हैं, जबकि 15 फीसदी डेबिट कार्ड और 11 फीसदी क्रेडिट कार्ड के साथ भुगतान करना पसंद करते हैं. हालांकि इसके बदलने की संभावना है क्योंकि सरकार लगातार लोगों को डिजिटल लेनदेन के लिए प्रोत्साहित कर रही है.

ये भी पढ़ें ; पेट्रोल-डीजल के अच्छे दिन, साल 2018 में तेल की कीमतों में बनी रहेगी नरमी

First published: 24 June 2018, 11:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी