Home » बिज़नेस » Rules changed to withdraw money from SBI ATMs at night, this way cash will come out
 

ATM फ्रॉड से बचने के लिए SBI ने शुरु की ये खास तकनीकी, अब ऐसे निकलेंगे पैसे

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 December 2019, 20:23 IST

देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) अपने ग्राहकों की सुरक्षा के लिए नया उपाय किया है. SBI एटीएम में अनधिकृत लेनदेन से बचने में मदद करने के लिए वन टाइम पासवर्ड (OTP) आधारित नकद निकासी प्रणाली की शुरुआत करेगा. ओटीपी-आधारित नकद निकासी प्रणाली सभी एसबीआई एटीएम में 1 जनवरी 2020 से रात 8 बजे से सुबह 8 बजे के बीच सक्रिय रहेगी.

एसबीआई ने ट्वीट किया "एटीएम में अनधिकृत लेनदेन से बचाने में मदद करने के लिए ओटीपी-आधारित कैश निकासी प्रणाली जारी की गई है. यह नई सुरक्षा प्रणाली 1 जनवरी 2020 से सभी एसबीआई एटीएम में लागू होगी. एसबीआई का कहना है कि एसबीआई की ओटीपी आधारित नकद निकासी सुविधा 10,000 से ऊपर के लेनदेन के लिए लागू होगी.

यह ओटीपी बैंक के साथ ग्राहक के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर प्राप्त होगा. यह सुविधा दूसरे बैंक के एटीएम से लेनदेन के लिए लागू नहीं होगी, क्योंकि यह कार्यक्षमता राष्ट्रीय वित्तीय स्विच (एनएफएस) में विकसित नहीं की गई है. एसबीआई के ग्राहकों को नकदी प्राप्त करने के लिए इस स्क्रीन में बैंक के साथ पंजीकृत अपने मोबाइल नंबर पर प्राप्त ओटीपी को इनपुट / पंच करना होगा.

Airtel ने अपने ग्राहकों को दी बड़ी खुशखबरी, अब NEFT पैसे भेजिए 24x7

इससे पहले SBI ने  कहा था कि अब ग्राहक बिना KYC के खाता खोल सकते हैं. SBI ने कहा कि एसबीआई के बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट स्मॉल अकाउंट को कोई भी व्यक्ति खोल सकता है. इसके लिए आपके पास वैध केवाईसी दस्तावेज आवश्यक नहीं हैं. बशर्ते आपकी उमर 18 वर्ष से अधिक हो.  एसबीआई स्मॉल अकाउंट के लिए कोई न्यूनतम शेष राशि नहीं है. इस खाते में अधिकतम शेष राशि 50,000 रखी जा सकती है.

First published: 27 December 2019, 11:08 IST
 
अगली कहानी