Home » बिज़नेस » Rupert Murdoch star india company estimates 12 billion loss in IPl 11 season broadcasting rights
 

IPl पर जमकर पैसे लुटाना स्टार इंडिया को पड़ा भारी, 12 अरब के घाटे का अनुमान

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 June 2018, 12:25 IST

इस साल हुए आईपीएल के 11वें संस्करण में टीवी और डिजीटल दोनों के राइट्स खरीदने वाली रुपर्ट मर्डोक की स्टार इंडिया को करीब 12 अरब के घाटे का अनुमान है. रुपर्ट मर्डोक ने इस साल हुए आईपीएल के लिए 16, 347.5 करोड़ रुपये की बडी़ बोली लगाकर इनके राइट्स खरीदे थे.

इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, इस आईपीएल के दौरान कंपनी को विज्ञापन, डिस्ट्रीब्यूशन और सिंडीकेशन से कुल 3,000 करोड़ की कमाई हुई जबकि कंपनी की कुल लागत 4, 250 करोड़ रुपये से अधिक रही.

ये भी पढ़ें-2019 में गन्ने की मार से बचने के लिए केंद्र तैयार कर रही है 8,000 करोड़ का पैकेज

बता दें कि रुपर्ट मर्डोक की स्टार इंडिया ने इस बार आईपीएल की टीवी और डिजीटल राइट्स खरीदे थी. इसके साथ हीं कंपनी ने अच्छे कवरेज के लिए 10 से अधिक टीवी चैनलों के अलावा 6 अलग-अलग भाषाओं में इसका प्रसारण भी किया था.

पिछले साल सोनी ने विज्ञापन से कितनी कमाई की

वहीं इस सीजन से पहले आईपीएल के 10वें संस्करण में सोनी ने पिक्चर्स लिमिटेड ने विज्ञापन से कुल 1,200 करोड़ की कमाई की थी. वहीं हॉटस्टार ने उस सीजन में कुल 140 करोड़ की कमाई की थी. बता दें कि आईपीएल के 10 वें संस्करण में सोनी पिक्चर्स नेटवर्क लिमिटेड के पास राइट्स थे.

महंगा स्लॉट भी है, घाटे की वजह   

इस घाटे की एक वजह महंगा स्लॉटस भी माना जा रहा है, मीडिया एजेंसी के एक सीईओ का कहना है कि कंपनी ने स्लॉटस की कीमत काफी उंची रखी थी. कंपनी ने टीवी और डिजीटल दोनों के स्लॉटस की कीमत को एक साथ मिला दिया था तथा कंपनी ने 10 लाख रुपये प्रती सेकेंड के हिसाब से स्लॉटस बेंचे.  

वहीं स्टार इंडिया के एग्जिक्यूटीव ने बताया कि कंपनी को आईपीएल से 1,000 करोड़ का रेवेन्यू मिलगा, बता दें कि इसमें केबल कंपनी, डीटीएच कंपनियों सहित डिस्ट्रीब्यूशन रेवेन्यू और हॉटस्टार के रेवेन्यू शामिल हैं.

First published: 5 June 2018, 12:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी