Home » बिज़नेस » Salary hikes may remain static at 8-10% in 2019, thanks to elections
 

नया साल आपको सैलरी बढ़ोतरी के मामले में दे सकता है बड़ी खुशखबरी, जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 December 2018, 16:12 IST

 

कई पारंपरिक नौकरियों की जगह तकनीक ने ले ली है. साल 2018 भी रोजगार के लिहाज से कुछ खास नहीं रहा. लेकिन साल 2019 में लोग रोजगार बढ़ने की उम्मीद लगा रहे हैं और इसके पीछे सबसे बड़ा कारण साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव हैं. विशेषज्ञ और हायरिंग प्रबंधकों को नए साल में 10 लाख से अधिक नई नौकरियों की उम्मीद है.

इस बार रोजगार सृजन लगभग सभी राजनीतिक दलों के लिए महत्वपूर्ण चुनावी मुद्दा है. हाल के वर्षों में रोजगार बड़ी बहस का विषय रहा है, क्योंकि समग्र आर्थिक विकास का एक तेज़ चेहरा होने के बावजूद रोज़गार सृजन का स्तर अनुमानित 12 मिलियन लोगों के साथ अच्छा नहीं रहा.

नोटबंदी के दोहरे अवरोधों और पिछले वर्ष में जीएसटी के कार्यान्वयन के बाद 2018 अभी भी भारतीय नौकरी परिदृश्य के लिए रिकवरी का वर्ष बन गया है. बुनियादी ढांचा, सड़क, राजमार्ग और हवाई अड्डों के लिए सरकार की योजनाओं से सीधे जुड़े हुए उद्योगों को कम से कम मई 2019 तक सावधानी से आगे बढ़ाया जा सकता है, जब तक कि नई सरकार के आने की उम्मीद है.

 

सैलरी में हो सकती है इतनी बढ़ोतरी

भारतीय स्टाफिंग फेडरेशन के अध्यक्ष रितुपर्णा चक्रवर्ती ने कहा कि आगे बढ़ते हुए, बैंकिंग, वित्तीय सेवाएं, रिटेल, लॉजिस्टिक्स, आईटी / आईटीईएस, ई-कॉमर्स, स्टार्ट-अप्स, कंज्यूमर गुड्स, इंफ्रास्ट्रक्चर और हेल्थकेयर में 2019 में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी देखने को मिलेगी. चक्रवर्ती ने कहा कि खुदरा गैर-मेट्रो और छोटे शहरों में उपभोक्ता खर्च में वृद्धि करेगा, जो बदले में रोजगार के विकास को गति देगा.

Aon CoCubes में एम्प्लॉयबिलिटी सॉल्यूशंस के निदेशक समीर नागपाल के अनुसार, भारत में वेतन वृद्धि 9-10% के आसपास स्थिर है, जो एशिया प्रशांत क्षेत्र में सबसे अधिक है. एओएन के नवीनतम सर्वेक्षण के अनुसार, वृहद आर्थिक पूर्वानुमानों में सुधार के बावजूद, 2018 के लिए वेतन वृद्धि 9.5% थी, जबकि 2019 के लिए अनुमान लगभग 9.6% हैं. जो लोग पहले से ही कार्यरत हैं, उनके लिए औसत वेतन वृद्धि 10-12% के बीच हो सकती है. जिसमें शीर्ष प्रदर्शन करने वाले को 15-20% और औसत प्रदर्शन करने वाले को 5-8% की उम्मीद हो सकती है.

लेकिन, कई विशिष्ट कौशल के लिए लोग 30-50% की बढ़ोतरी प्राप्त कर सकते हैं. विशेषज्ञों के अनुसार 2018 के सबसे महत्वपूर्ण एचआर रुझानों में से एक ऑटोमेशन और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का तरीका काम की दुनिया को बदल रहा है. ब्लॉकचैन, रोबोटिक्स, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और साइबर सिक्योरिटी से जुड़ी जॉब सर्च में काफी बढ़ोतरी हुई है, क्योंकि ज्यादा से ज्यादा कंपनियां तकनीक को आत्मसात कर रही हैं.

ये भी पढ़ें : सरकारी तेल कंपनियां खोलने वाली थी 80,000 पेट्रोल पंप, नहीं मिल रही जमीन

First published: 24 December 2018, 16:07 IST
 
अगली कहानी