Home » बिज़नेस » SBI and other banks instruction to their customers for beware of phishing through e-mails
 

SBI सहित इन बैंक खाते से हैकर्स चुरा रहे हैं पैसे, ठगी से बचने के लिए जानें ये जरुरी बातें

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 January 2019, 19:50 IST

देश के कई बड़े बैंकों के ग्राहकों को ठगी का शिकार होना पड़ा है. बैंक अकाउंट में सेंधमारी कर हैकर्स चंद मिनट में पैसे की निकासी कर रहे हैं. हैकर्स, स्टेट बैंक, ICICI, HDFC, PNB, बैंक ऑफ़ बड़ौदा सहित अन्य बैंकों के कस्टमर्स को निशाना बना रहे हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक देश के सबसे बड़े बैंक, स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) के ग्राहकों के अकाउंट से भी हैकर्स ने पैसों की ऑनलाइन चोरी की है. बैंक ने खुद इस बाबत चेतावनी जारी करते हुए ग्राहकों को सतर्क रहने को कहा है.

 

ई-मेल से पैसों की चोरी

बैंक ने कहा है कि हैकर्स ग्राहकों के खातों से सेंधमारी करके पैसे निकाल रहे हैं. इसके लिए हैकर्स ई-मेल का इस्तेमाल कर रहे हैं,  बैंक ने सभी ग्राहकों को सावधान किया है कि वे बैंक के नाम से आए ई-मेल का जवाब न दें. हैकर्स ऐसे लोगों की प्रोफाइल निकालते हैं जिनके बैंक ट्रांजैक्शन बहुत ज्यादा होते हैं या फिर वो सिनियर सिटीजंस हो, क्योंकि ऐसे लोगों से अकाउंट या कार्ड की डिटेल्स लेना आसान होता है. लेकिन ठगी का शिकार कोई भी हो सकता है.

ऐसे हो रहा है अकाउंट में सेंधमारी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हैकर्स ई-मेल भेजकर इस फ्रॉड को अंजाम दे रहे हैं. ग्राहकों को एसबीआई या संबंधित बैंक के नाम से ई-मेल भेजा जा रहा है. जब ग्राहक ई-मेल में दी गई लिंक पर क्लिक करता है तो एक बैंक के वेबसाइट से मिलती-जुलती नकली वेबसाइट खुल जाती है, इस साइट पर कुछ जानकारी मांगी जाती है और ऐसा नहीं करने पर जुर्माने या अकाउंट बंद करने की चेतावनी दी जाती है.

इसमें अकाउंट होल्डर को बैंक खाता संख्या, लॉगइन/ प्रोफाइल या लेनदेन पासवर्ड या अन्य गोपनीय जानकारी आदि देने के लिए कहा जाता है. इसके बाद कभी कभी ओटीपी नंबर (बैंक में रेजिस्टर्ड नंबर पर ट्रांजेक्शन के समय आने वाला पासवर्ड) देने के लिए भी कहा जाता है. जब ग्राहक अपनी जानकारी देने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करता है तो एक एरर पेज खुलता है. इतना प्रक्रिया के पूरी होने तक ग्राहक फिशिंग की चपेट में आ चुका होता है और उसके अकाउंट से पैसे गायब.

First published: 27 January 2019, 19:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी