Home » बिज़नेस » SBI Changes Banking Loan And Other Services For Their Customers
 

SBI ने अपनी इन सेवाओं में किए ये बड़े बदलाव, लेन-देन करन से पहले जान लें जरूरी बातें

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 November 2018, 10:13 IST

अगर आपका अकाउंट स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में है तो ये खबर आपके लिए है. क्योंकि सार्वजनिक क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने अपनी बैंकिंग सेवाओं में कुछ बदलाव किए गए हैं. इस बदलाव के अंतर्गत एसबीआई अपने मोबाइल वॉलेट एप एसबीआई बडी को बंद करने वाला है. इसी के साथ ये एप 30 नवंबर के बाद काम करना बंद कर देगा.

इस संबंध में पूरी जानकारी आप SBI की आधिकारिक वेबसाइट sbi.co.inसे भी ले सकते हैं. इसी के साथ SBI ने अपने उन ग्राहकों को अपने मोबाइल नंबर बैंक के पास रजिस्टर्ड कराने को भी बोला है जो इंटरनेट बैंकिंग के जरिए लेन देन करते हैं. इसके अलावा SBI कार्ड के जरिए सुरक्षित ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के लिए SBI ने अपने ग्राहकों से यह भी कहा है कि वो अपने मौजूदा डेबिट कार्ड को EMV (यूरोपे, मास्टरकार्ड एंड वीजा) चिप एंड-पिन-डेबिट कार्ड से बदलवा लें. क्योंकि आगामी दिनों आपके पुराने SBI डेबिट कार्ड बंद हो जाएंगे.

SBI ने ये भी किए हैं बदलाव

SBI Buddy

भारतीय स्टेट बैंक ने जानकारी दी है कि वो 30 नवंबर 2018 से अपनी इस मोबाइल वॉलेट एप को बंद करने जा रहा है. बता दें कि यह एप अगस्त 2015 को लॉन्च किया गया था. SBI Buddy के जरिए ग्राहक पैसे भेज सकते हैं, अपना बैंक स्टेटमेंट देख रखते हैं. अपना मोबाइल फोन एवं सेट-टॉप बॉक्स रिचार्ज करा सकते हैं. मूवी टिकट बुक करा सकते हैं और ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते हैं. इसके साथ ही इस एप में अन्य फीचर्स भी उपलब्ध हैं.

नकद निकासी

SBI ने अपने डेबिट कार्ड से प्रतिदिन नकदी निकासी की सीमा को भी कम कर दिया है. SBI ने अपने क्लासिक और मैस्ट्रो डेबिट कार्ड यूजर्स के लिए नकदी निकासी की सीमा घटाई है. इसी के साथ नए निकासी नियमों के तहत ATM से अब ग्राहक एक दिन में सिर्फ 20,000 रुपये ही निकाल पाएंगे. पहले डेबिट कार्ड से एक दिन में 40000 रुपये निकाले जा सकते थे.

ऐसा माना जा रहा है कि SBI ने इसे SBI फ्रॉड को रोकने के इरादे से कम किया है, ताकि डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा दिया जा सके. हालांकि SBI की ओर से हाल ही में इस संबंध में एक बयान दिया गया था जिसमें कहा गया कि जो ग्राहक प्रतिदिन 20,000 रुपये से ज्यादा की निकासी करना चाहते हैं वो बैंक जाकर ज्यादा लिमिट वाला कार्ड प्राप्त कर सकते हैं.

इंटरनेट बैंकिंग

SBI ने अपने नोटिफिकेशन में कहा है कि ग्राहक अगर चाहते हैं कि उनकी इंटरनेट बैंकिंग सेवा चालू रहे तो उन्हें अपने मोबाइल नंबर को बैंक के साथ लिंक कराना ही होगा. ऐसे में जिन ग्राहकों ने अभी तक ऐसा नहीं किया है उन्हें अपनी नजदीकी शाखा में जाकर ऐसा कराना होगा. अगर आपका भी मोबाइल नंबर आपके बैंक अकाउंट से लिंक नहीं है तो आप भी अपना मोबाइल नंबर SBI बैंक अकाउंट से जरूर लिंक करा लेंक्योंकि अगर आपने अपना मोबाइल नंबर अपने अकाउंट से लिंक नहीं कराया तो आपकी इंटरनेट बैंकिंग सेवा ब्लॉक कर दी जाएगी. इसलिए आप अपना मोबाइल नंबर 30 नवंबर से पहले अपने अकाउंट से जरूर लिंक करा लें.

ईएमवी चिप डेबिट कार्ड

इसी के साथ SBI ने अपने ग्राहकों से कहा है कि वो मौजूदा डेबिट कार्ड को ईएमवी चिप-एंड-पिन डेबिट कार्ड से अपग्रेड करवा लें, जो कि ज्यादा सुरक्षित है. बता दें कि एसबीआई की ओर से उठाया गया यह कदम आरबीआई की ओर से तय की गई 31 दिसंबर की डेडलाइन के अनुरुप है. जिसमें वाणिज्यिक बैंकों से कहा गया है कि वो अपने ग्राहकों से कहें कि वो अपने मैग्नेटिक स्ट्राइप अाधारित डेबिट कार्ड को बदलवाकर ईएमवी चिप-एंड-पिन डेबिट कार्ड ले लें. अगर आपने ऐसा नहीं किया तो आप अपने पुराने डेबिट कार्ड से पैसे नहीं निकाल पाएंगे.

ये भी पढ़ें- पेट्रोल-डीजल के दामों में कटौती ने फिर पकड़ी रफ़्तार, एक दिन के ब्रेक के बाद इतने कम हुए तेल के दाम

First published: 15 November 2018, 10:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी