Home » बिज़नेस » SBI cuts FD rates twice in fifteen days know what is new FD rates
 

SBI ने लाखों ग्राहकों को दिया झटका, FD की ब्याज दरों में की इतनी कटौती

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 September 2019, 12:11 IST

अगर आप एबीआई के ग्राहक हैं और आपने यहां FD यानी फिक्स डिपोजिट करा रखा है तो आपके लिए बुरी खबर है. क्योंकि सार्वजनिक क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने एक बार फिर से एफडी की ब्याज दरों में कटौती की है. ये कोई पहला मौका नहीं है जब एसबीआई ने एफडी की दरों में कटौती की है. इससे पहले एसबीआई दो बार एफडी की दरों में कटौती कर चुकी है. एसबीआई के इस फैसले से बैंक के करोड़ों ग्राहकों को झटका लगा है.

SBIएफडी की नई ब्याज दरें 10 सितंबर यानी मंगलवार से लागू हो जाएंगी. एसबीआई ने एमसीएलआर में 10 बेसिस प्वाइंट की कटौती की है. बता दें कि इससे पहले भी एबीआई ने 0.5 फीसदी तक एफडी पर ब्याज दर को कम किया था. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की एफडी पर मिलने वाली ये नई ब्याज दरें 26 अगस्त को ही लागू हुई थीं. अब ऐसा माना जा रहा है कि एसबीआई के इस कदम के बाद देश के दूसरे बैंक भी ब्याज दरों में कटौती कर सकते हैं.

इससे पहले आरबीआई ने 7 अगस्त को रेपो रेट कम की थीं. जिसके बाद एसबीआई ने एफडी की ब्याज दरों को घटाने का निर्णय लिया. आरबीआई ने अपनी तीसरी द्विमासिक पॉलिसी में रेपो रेट में 35 बेसिस प्वॉइंट्स की कटौती की थी. इसके बाद ब्याद दर 5.75 फीसदी से 5.40 फीसदी रह गई थी. बैंक ने रिटेल एफडी पर 10-50 बेसिस प्वॉइंट और एफडी पर 30-70 बेसिस प्वॉइंट की कटौती की है.

बता दें कि एसबीआई ने 7 से 45 दिन की एफडी पर ब्याज दरों में 0.50 फीसदी की कटौती की है. फिलहाल बैंक 7 से 45 दिन की एफडी पर 5 फीसदी का ब्याज देता है. लेकिन 26 अगस्त से यह दर 4.50 फीसदी ही रग गई हैइसके अलावा एसबीआई ने 46 से 179 दिनों की एफडी पर 0.25 फीसदी की ब्याज दर घटाई है. बैंक पहले 46 से 179 दिनों की एफडी पर 5.75 फीसदी का ब्याज देता है, लेकिन 26 अगस्त के बाद यह 5.50 फीसदी रह गई है.

वहीं 180 दिन से 210 दिनों की एफडी पर एसबीआई ने 0.25 फीसदी की ब्याज दर घटाई है. बैंक 180 दिनों से 210 दिनों की एफडी पर 6.25 फीसदी का ब्याज देता है. जो 26 अगस्त के बाद से ब्याज दर 5.80 फीसदी रह गई हैअगर बात करें 211 दिन से 1 साल की एसबीआई एफडी को तो इस पर बैंक ने 0.25 फीसदी ब्याज दर घटाया है. पहले ये दर 6.25 फीसदी थी जो 26 अगस्त से यह 5.80 फीसदी रह गई है.

100 फीसदी एफडीआई के विरोध में 24 सितम्बर को कोयला मजदूर संघ हड़ताल पर

First published: 9 September 2019, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी